कैथल में किसानों का ट्रैक्टर मार्च: लघु सचिवालय तक किसानों का प्रदर्शन; नेता बोले- किसानों का इम्तिहान न ले सरकार

15
Quiz banner
Advertisement

हरियाणा में गन्ने का भाव 450 रुपए प्रति क्विंटल करने की मांग पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। इसी कड़ी में बुधवार को कैथल में गन्ने का भाव बढ़ाने की मांग पर किसानों ने शहर में ट्रैक्टर मार्च निकाला। किसानों ने शुगर मिल से लेकर लघु सचिवालय तक ट्रैक्टर-ट्रालियों में गन्ना डालकर प्रदर्शन किया। इसकी अध्यक्षता भारतीय किसान यूनियन चढूनी गुट के जिला अध्यक्ष महाबीर चहल नरड़ ने की।

रोहतक में किसानों का शक्ति प्रदर्शन: ट्रैक्टर लेकर शहर में घुसे किसान, जाम हुआ ट्रैफिक, पुलिस के छूटे पसीने, ट्रैक्टर मार्च निकाला

पीछे नहीं हटेंगे किसान

किसानों के प्रदर्शन में गन्ना संघर्ष समिति, भाकियू, भारतीय किसान संघ शामिल हुए। किसान नेताओं का कहना था कि सरकार किसानों को बेवजह परेशान कर रही है। सरकार एक तरह से किसानों का इम्तिहान लेना चाह रही है, लेकिन किसान अपनी मांग मनवाने को लेकर लगातार धरना प्रदर्शन करने से पीछे नहीं हटेंगे।

कल जलेगी गन्ने की होली

महाबीर चहल नरड़ ने कहा कि किसानों की मांगों को सरकार द्वारा मानने की स्थिति में किसानों ने आगामी आंदोलन की रणनीति बना ली है। इस रणनीति के तहत आज ट्रैक्टर मार्च निकाला है। अब 26 जनवरी को गन्ने की होली जलाई जाएगी। इसके बाद 30 जनवरी को सरकार का पुतला फूंका जाएगा। वहीं, 29 जनवरी को गोहाना में होने वाली देश के गृहमंत्री अमित शाह का विरोध किया जाएगा। किसान गन्ने का दाम बढ़ने तक लगातार प्रदर्शन करेंगे।

बता दें कि किसान पिछले छह दिनों से कैथल की शुगर मिल में धरना दे रहे है। रविवार के बाद से मिल में किसानों के प्रदर्शन के कारण पेराई का कार्य भी बिल्कुल बन्द हो चुका है।

 

खबरें और भी हैं…

.
कैथल में किसानों का ट्रैक्टर मार्च: लघु सचिवालय तक किसानों का प्रदर्शन; नेता बोले- किसानों का इम्तिहान न ले सरकार

.

Advertisement