यमुनानगर में 6 वार्डो में भाजपा- 4 में बसपा जीती: जिला परिषद के 18 वार्डों के परिणाम जारी; इनेलो-आप को 1-1 मे जीत मिली

18
Quiz banner
Advertisement

हरियाणा के यमुनानगर में जिला परिषद के लिए डाले गए वोटों की गिनती रविवार को हुई। यहां सिंबल पर चुनाव मैदान में उतरी भाजपा को 18 वार्डों में से केवल 6 वार्डों में ही जीत मिली। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 4 कैंडिडेट जीते हैं। कांग्रेस समर्थित 4, इनेलो का एक और आप का एक प्रत्याशी विजयी रहा है। सभी सीटों के परिणाम आने के बाद प्रशासन की ओर से विजय प्रमाण पत्र दिए गए। चुनाव जीतने वाले प्रत्याशियों के समर्थकों ने जमकर खुशी मनाई।

करनाल में गेस्ट टीचरों ने किया धरना समाप्त: मुख्यमंत्री प्रतिनिधि के आश्वासन पर उठे टीचर, बाले अगर नहीं मानी मांगे तो आगे करेंगे आंदोलन तेज

भाजपा के ये प्रत्याशी जीते

यमुनानगर में भाजपा ने जीत के लिए पूरा जोर लगाया था। रिजल्ट आने के बाद सामने आया कि भाजपा की स्थिति जिला परिषद चुनाव में बसपा से कोई ज्यादा अच्छी नहीं रही है। भाजपा 6 तो बसपा 4 सीटों पर जीती है। भाजपा ने सभी 18 वार्डों में अपने प्रत्याशी उतारे थे। भाजपा प्रत्याशियों की बात करें तो वार्ड-1 से रमेशचंद, वार्ड-9 से सुरेश कुमारी, वार्ड-10 से जयचंद, वार्ड- 17 से सर्वजीत और वार्ड-18 से विनीत कौर विजेता रही है। खास बात है कि इनमें से 3 सीटें तो पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति के लिए रिजर्व थी।

विजेता प्रत्याशी विजय प्रमाण पत्र लेते हुए।

बसपा ने यहां से मारी बाजी

बसपा ने भी जिला परिषद चुनाव में यमुनानगर में अपनी ताकत दिखा दी है। यहां बसपा की टिकट पर वार्ड 11 से सुशीला देवी, वार्ड 13 से अग्नि विजय सिंह, वार्ड 15 से धर्मपाल और वार्ड 16 से सुमन देवी चुनाव जीती है। इसमें 3 सीटें अनुसूचित जाति के लिए रिजर्व थी और एक सीट सामान्य वर्ग के प्रत्याशी के लिए थी।

एलोन मस्क ने ट्विटर 2.0 को ब्लू-सब्सक्राइबर्स के लिए लॉन्ग-फॉर्म कंटेंट और फुल वीडियो पर फोकस किया

इनेलो और आप को केवल एक-एक

यमुनानगर में इनेलो और आप ने भी कुछ वार्डों में प्रत्याशी उतारे थे। दोनों को ही एक-एक वार्ड से जीत मिली है। आम आदमी पार्टी प्रत्याशी दलीप कुमार ने वार्ड 5 से जीत हासिल की। इनेलो की प्रत्याशी सलोनी वार्ड 14 से चुनाव जीती है। यह वार्ड महिला के लिए आरक्षित था।

कांग्रेस ने दिया था समर्थन

यमुनानगर में कांग्रेस ने सिंबल पर जिला परिषद चुनाव में अपना कोई प्रत्याशी नहीं उतारा था। हालांकि अधिकतर सीटों पर कांग्रेस ने कैंडिडेट को समर्थन जरूर दिया था। कांग्रेस समर्थित 5 प्रत्याशी चुनाव जीते हैं। इनमें वार्ड 8 से शमीम खाना जिला पार्षद बने है। वे पूर्व मंत्री अकरम खान के भाई हैं। वार्ड 6 से नरवैल सिंह और वार्ड 7 से भानू बत्रा को भी कांग्रेस से जुड़ा बताया गया है।

काउंटिंग हाल में जांच करते हुए अधिकारी।

काउंटिंग हाल में जांच करते हुए अधिकारी।

जिला प्रशासन ने ये दी जानकारी

डीसी और जिला निर्वाचन अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि जिला परिषद के वार्ड- 1 से भाजपा के रमेश चंद निवासी गांव ठसका, वार्ड-2 से निर्दलीय निशा संधू निवासी गांव सैदूपुर, वार्ड- 3 से निर्दलीय अहमद अली निवासी गांव नगली-32, वार्ड- 4 से निर्दलीय गुरजीत कौर गांव चगनौली, वार्ड-5 से आम आदमी पार्टी के दिलीप कुमार निवासी गांव जुड्डा जाटान, वार्ड- 6 से निर्दलीय नरवैल सिंह निवासी गांव लोप्पो, वार्ड- 7 से निर्दलीय भानू गांव सिंगपुरा, वार्ड- 8 से निर्दलीय शमीम खान गांव खिजरी , वार्ड-9 से भाजपा की सुरेश कुमारी निवासी गांव देवधर चुनाव जीती है।

कुछ भी नहीं फोन 1 Android 13 बीटा अपडेट जल्द ही रोल आउट हो सकता है

इसी प्रकार वार्ड- 10 से भाजपा के जय चंद निवासी गांव याकुबपुर, वार्ड-11 से बसपा की सुशीला देवी निवासी गांव जमालपुर, वार्ड-12 से भाजपा की संगीता देवी निवासी गांव कांजनू, वार्ड -13 से बसपा के अग्रिविजय सिंह निवासी गांव खजूरी, वार्ड -14 से इनेलो की सलोनी निवासी गांव साबापुर, वार्ड -15 से बसपा के धर्मपाल निवासी गांव तिगरा, वार्ड-16 से बसपा की सुमन देवी निवासी गांव गोलनी, वार्ड-17 से भाजपा के सर्वजीत निवासी गांव सरस्वती नगर और वार्ड-18 से भाजपा की विनीत कौर निवासी गांव सबलपुर जिला परिषद सदस्य निर्वाचित हुए हैं।

 

खबरें और भी हैं…

.आस्था के नाम पर फुटपाथ पर कब्जा: चंडीगढ़ के हेरिटेज सेक्टर में सड़क पर चलेंगे पेडेस्ट्रियन; अधिकारी खामोश

.

Advertisement