अमृत प्रोजेक्ट में मिली खामियां: निकाय विभाग ने 3 जिलों के 5 अधिकारी किए सस्पेंड; 2 की पेंशन रोकने के आदेश

24
Quiz banner
Advertisement

 

 

स्थानीय शहरी निकाय निदेशालय हरियाणा ने तीन नगर निकायों के 5 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया। साथ ही 2 अधिकारियों की पेंशन रोकने के आदेश जारी किए है। ये दोनों अधिकारी रिटायर्ड हो चुके हैं। इनके खिलाफ सस्पेंशन की कारवाई अमृत योजना प्रोजेक्ट में नागरिक और बुनियादी सुविधाओं में अनियमिताएं बरती जाने पर टेक्नीकल खामियों और स्पेशल चेकिंग के चलते की गई। जिन अधिकारियों के खिलाफ कारवाई हुई है, उनमें रिटायर्ड चीफ इंजीनियर से लेकर कार्यकारी अभियंता, एमई और जेई तक शामिल है।

अमृत प्रोजेक्ट में मिली खामियां: निकाय विभाग ने 3 जिलों के 5 अधिकारी किए सस्पेंड; 2 की पेंशन रोकने के आदेश

इस संबंध में शहरी निकाय विभाग ने हरियाणा ने संबंधित विभागों को सूचित कर दिया है। बता दें कि प्रदेश के कई जिलों में अमृत योजना के तहत विकास परियोजनाएं चल रही है। जिसमें पेयजल, जल निकासी, सीवरेज प्रबंधन को शामिल किया गया है।

इन 7 अधिकारियों पर गिरी गाज

हिसार नगर निगम के कार्यकारी अभियंता संदीप कुमार, अमित कौशिक कार्यकारी अभियंता फतेहाबाद, कर्मपाल एमई हिसार, अनिल मोहित जेई सिरसा नगर निगम, अंकुर जूनियर इंजीनियर हिसार का सस्पेंड किया गया। सस्पेंशन के दौरान इनका मुख्यालय पंचकूला रहेगा। वहीं नगर निकाय पंचकूला के रिटायर्ड चीफ इंजीनियर डीआर भास्कर और प्रवीण वर्मा रिटायर्ड असिस्टेंट इंजीनियर पर अंडर रूल 12 के तहत पेंशन रोकने के आदेश जारी किए गए है। इन अधिकारियों पर अपने एरिया में अमृत प्राजेक्ट में टेक्नीकल खामियां मिलने पर कारवाई की गई।

करनाल में भाजपाइयों और ग्रामीणों में टकराव: भाजपा के गले की फांस बनी परिवार पहचान पत्र की त्रुटियां, गांव में भाजपा के कार्यक्रमों का विरोध शुरू

20 से ज्यादा शहरों में चल रह है प्रोजेक्ट

अमृत योजना के तहत हरियाणा के 20 से ज्यादा शहरों में प्रोजेक्ट चल रहे हैं। हिसार में करीब 130 किलोमीटर लंबी पेयजल लाइन बिछानी थी। अक्टूबर 2018 में टेंडर अलॉट किया गया। परंतु नियमित कार्य न करने पर एजेंसी को 2021 नोटिस दिए गए। इसके बाद क्लोज टू के दो बार नोटिस दिए गए। जिसके बाद क्लोज थ्री का नोटिस देते हुए कंपनी का टेंडर रदद् कर दिया गया। नगर निगम ने एजेंसी को 18 करोड़ का भुगतान किया था।

 

खबरें और भी हैं…

.
करनाल में भाजपाइयों और ग्रामीणों में टकराव: भाजपा के गले की फांस बनी परिवार पहचान पत्र की त्रुटियां, गांव में भाजपा के कार्यक्रमों का विरोध शुरू

.

Advertisement