सीएम विंडों व अवैध कब्जों की शिकायतों को हल्के में ना लें अधिकारी: एसडीएम

66
Advertisement
एस• के• मित्तल 
सफीदों,        अवैध कब्जों, सीएम विंडों व आरटीआई से संबंधित शिकायतों को अधिकारी व कर्मचारी कतई हल्के में ना लें और उनका त्वरित निपटान करना सुनिश्चित करें। यह बात एसडीएम सत्यवान सिंह मान ने कही। वे सोमवार को अपने कार्यालय में अधिकारियों व कर्मचारियों की बैठक ले रहे थे।
उन्होंने कहा कि देखने में आया है कि सीएम विंडों, आरटीआई व अवैध कब्जों से संबंधित निरंतर शिकायतें आ रही है और काफी शिकायतों का निपटान शेष पड़ा है। ऐसे में पीडि़त या शिकायकर्ता को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। माननीय हाईकोर्ट द्वारा इस प्रकार की शिकायतों को 3 महीने के भीतर निपटाने के निर्देश हैं। उन्होंने कहा कि अब कागजी जमाखर्च से काम चलने वाला नहीं है। अधिकारियों व कर्मचारियों को धरातल पर काम करना होगा। सभी पैंडिंग पड़ी शिकायतों का निपटान करना आज से ही शुरू कर दें।
शिकायत के निपटान करने के उपरांत उसका ऑनलाईन इंदराज करें। एसडीएम ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए कि वे इस संबंधी अपनी प्रगति रिपोर्ट उन्हे पेश करें। केवल वहीं काम निपटा हुआ माना जाएगा जो ऑनलाईन क्लीयर होगा। एसडीएम सत्यवान सिंह मान ने कहा कि वे इस संबंध में हर सोमवार अधिकारियों व कर्मचारियों की बैठकें लेकर फीडबैक लेंगे।
जो अधिकारी व कर्मचारी इस कार्य में ढिलाई या लापरवाही करता पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाएगा। इस मौके पर एसीपीओ पिल्लखेड़ा सकूर खान व एससीपीओ सफीदों नरेश कुमार विशेष रूप से मौजूद थे।
Advertisement