रेशनालाइजेशन और ट्रांसफर ड्राइव का EFFECT: स्कूलों में अध्यापकों की कमी; टोहाना के चंदड़कलां व पिरथला में विद्यालय पर ताला लगाया गया

24
Quiz banner
Advertisement

 

हरियाणा के फतेहाबाद जिले के टोहाना शहर में सरकारी स्कूलों में रेशनालाइजेशन और ट्रांसफर ड्राइव पॉलिस के कारण अध्यापकों की कमी हो गई। ट्रांसफर ड्राइवर में विसंगितयां होने के कारण अध्यापकों में भी रोष है, लेकिन स्कूलों में अध्यापक न रहने के कारण पढ़ाई प्रभावित हो रही है। इसलिए सरकारी स्कूलों में अध्यापकों की कमी के विरोध में अब विद्यार्थी और अभिभावक एकजुट हो गए हैं।

पानीपत में करंट लगने से युवक की मौत: मकान मालिक पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज; आरोप-खतरे वाली जगह करवाया काम

सोमवार को टोहाना ब्लॉक के पिरथला और चंदडक़लां गांव में सरकारी स्कूलों में ग्रामीणों ने ताला लगाकर धरना दिया। ग्रामीण भजन सिंह ने मांग की है कि ट्रांसफर ड्राइव में अध्यापक जा तो रहे हैं, लेकिन उसी अनुपात में स्कूलों में आ नहीं रहे हैं। इन दोनों स्कूलों के गेट पर तालाबंदी करके रोष जताना शुरू कर दिया है। अब स्कूल में साइंस का अध्यापक तक नहीं है। ऐसे में पढ़ाई कैसे होगी।

विद्यार्थियों को दूसरे स्कूलों में दाखिला लेना पड़ेगा। नए माहौल में नए टीचर्स से पढ़ने में समझने में टाइम लगेगा। एग्जाम सिर पर हैं। ग्रामीणों ने ऐलान किया है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होगी धरना जारी रहेगा। घटना के बाद शिक्षा विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और विद्यार्थियों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन विद्यार्थियों व ग्रामीणों ने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी, यह आंदोलन जारी रहेगा।

करनाल के खिलाड़ियों ने किया 18 पदको पर कब्जा: जीते 7 स्वर्ण, 5 रजत व 4 कांस्य पदक, 40 खिलाड़ियों ने लिया था प्रतियोगिता में हिस्सा

स्कूल के गेट पर बैठे विद्यार्थी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए।

स्कूल के गेट पर बैठे विद्यार्थी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए।

गेट पर ताला लगाकर विरोध नारेबाजी करते ग्रामीण और विद्यार्थी।

गेट पर ताला लगाकर विरोध नारेबाजी करते ग्रामीण और विद्यार्थी।

 

खबरें और भी हैं…

.
आदमपुर में कुलदीप ने काम नहीं ‘कारनामे’ किए: दीपेंद्र हुड्‌डा बोले- मैं राज्यसभा सांसद, नहीं लडूंगा चुनाव, पर उम्मीदवार जिताऊ होगा

.

Advertisement