जींद में शहीदी गुरु पर्व पर निकला नगर-कीर्तन: पंज प्यारों ने की अगुवाई, पंजाबी गिद्दा और भंगड़ा रहा आकर्षण का केंद्र

27
Quiz banner
Advertisement

हरियाणा के जींद में 9वीं पातशाही गुरु तेग बहादुर साहिब के शहीदी गुरु पर्व के उपलक्ष्य में गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा की प्रबंधक कमेटी एवं गुरु तेग बहादुर हाई स्कूल के छात्र छात्राओं तथा समूह संगत के सहयोग से सोमवार को शहर में विशाल नगर कीर्तन का आयोजन किया गया।

सांसद खेर के SCO को खाली करने के आदेश: बहन ने ज्वेलर के खिलाफ दायर की थी याचिका; मंजूर हुई

नगर कीर्तन श्री गुरु सिंह सभा गुरुद्वारा भारत सिनेमा रोड से शुरू हुआ और शिव चौक, पंजाबी बाजार, तांगा चौक, मेन बाजार, सिटी थाना व पालिका बाजार होते हुए गुरुद्वारा श्री गुरू तेग बहादुर साहिब पर जाकर संपन्न हुआ। गुरुघर के प्रवक्ता बलविंदर सिंह ने बताया कि नगर कीर्तन में श्री गुरु ग्रंथ साहिब की पालकी साहिब को बड़े ही सुसज्जित ढंग से सजाया गया था। इसकी अगुवाई गुरु के पंज प्यारे कर रहे थे।

वाहे गुरु नाम सिमरन जपते चल रहा था जत्था
शब्दी जत्था पालकी साहिब के पीछे पीछे संगतों के साथ वाहे गुरु नाम सिमरन जपते हुए चल रहा था। नगर कीर्तन के आगे सुखमणी सेवा सोसाइटी के सदस्य झाड़ू की सेवा दे रहे थे। नगर कीर्तन में स्कूली बच्चे रंग बिरंगी पोषाकों में पंजाबी गिद्दा, पंजाबी भंगड़ा, डंबल, लेजियम तथा पीटी शो करते हुए आकर्षण का केंद्र बने हुए थे।

इस अपडेट के साथ गूगल शीट्स, डॉक्स और जीमेल को नई सुविधाएँ मिलीं

नगर कीर्तन में नन्हें बच्चे।

9वें महल्ले के श्लोकों को बाणी में पिरोकर गुरबाणी गायन किया
​​​​​​​नगर कीर्तन में गुरुद्वारा साहिब के रागी भाई गुरदित्त सिंह व भाई रिषिपाल सिंह के जत्थे द्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब द्वारा रचित 9वें महल्ले के श्लोकों को बाणी में पिरो कर गुरबाणी गायन कर रहे थे। हैडग्रंथी भाई सतबीर सिंह गुरु तेग बहादुर की जीवनी का उल्लेख करते चल रहे थे। बाजार में श्रद्धालुओं ने नगर कीर्तन के स्वागत के लिए जगह-जगह खाने पीने के स्टॉल लगा रखे थे।

नगर कीर्तन के ऐतिहासिक गुरुद्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब में पहुंचने पर मैनेजर परमजीत सिंह व गुरुद्वारा स्टाफ द्वारा नगर कीर्तन का भव्य स्वागत किया गया।

व्हाट्सएप ने डेटा ब्रीच की चिंताओं को खारिज किया, कहा कि किसी भी लीक का कोई सबूत नहीं है

खबरें और भी हैं…

.
परिवहन विभाग: 8 महीने बीते, बरवाला के नया बस स्टैंड का प्रपाेजल नहीं चढ़ सका सिरे, पीडब्ल्यूडी के एस्टीमेट से पीएसटी असहमत

.

Advertisement