जस की हत्यारोपी अंजली ने दिया बेटी में को जन्म: 3 दिन अस्पताल में रखने के बाद दोबारा भेजा जेल, डॉक्टरों की निगरानी में जच्चा बच्चा

35
Quiz banner
Advertisement

हरियाणा के करनाल जिले के इंद्री क्षेत्र के गांव कमालपुर रोड़ान में पांच वर्षीय जस हत्याकांड की मुख्य आरोपी और मृतक जस की चाची अंजली ने एक लड़की को जन्म दिया है। जब अंजली ने जस की बेरहमी से हत्या की थी उस समय अंजली ढाई माह की गर्भवती थी। 14 नवम्बर की शाम करनाल जेल में बंद अंजली को लेबर पेन शुरू हुई। जिसकी हालात को देखते हुए अंजली को करनाल सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहाँ पर 15 नवम्बर को को लेबर वार्ड में अंजली की डिलीवरी की गई और उसने एक बच्ची को जन्म दिया। उसके बाद लेबर वार्ड से अंजली को कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में।रेफर कर दिया गया और उसके बाद 16 नवम्बर को अंजली को जेल भेज दिया गया। बच्ची व अंजली की हालत सामान्य है।

करनाल के राइस मिलों में धान की जांच शुरू: तीन से चार राइस मिलों में गड़बड़ी की आशंका, परमाल धान की बोरियों में मिला बारीक धान

घर से नहीं जेल में ही दिया जा रहा है आहार

अंजली करनाल जेल में अपने कर्मो की सजा भुगत रही है और उसके कर्मो की सजा आज उसकी बच्ची को भी भुगतनी पड़ रही है। डिलीवरी के बाद भी अंजली को जेल की रोटियां खानी पड़ रही है। जेल अधिकारियों की माने तो अंजली को डॉक्टरों के निर्देश अनुसार ही डाइट दी जा रही है। जच्चा बच्चा को किसी तरह की परेशानी ना हो इसका भी ध्यान रखा जा रहा है।

हत्यारोपी अंजली व मृतक जस की फाइल फोटो।

हत्यारोपी अंजली व मृतक जस की फाइल फोटो।

क्या था मामला

पांच अप्रैल को गांव कमालपुर रोड़ान में पांच वर्षीय जस अपने दादा से पांच रुपये लेकर दुकान पर टॉफी लेने गया था। उसके बाद वह घर नहीं लौटा। परिजनों ने उसकी आसपास तलाश की, लेकिन उसका सुराग नहीं लगा। इसके बाद ग्रामीणों का शक एक संदिग्ध व्यक्ति पर गया, जो गांव में भिक्षा मांगने आया था, वह सीसीटीवी फुटेज में भी दिखाई दे रहा था। पुलिस ने उक्त संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो सामने आया कि उसने जस का अपहरण नहीं किया था।

पंचकूला में महिला से सोने की चेन-कड़े ठगे: 3 युवकों ने पुलिसवाला बनकर महिला को दिखाया 2 हजार रुपए जुर्माने का डर

इसके बाद रात को पुलिस ने गांव में घर-घर जाकर तलाशी ली लेकिन जस और उसके परिवार के चार से पांच घर छोड़ दिए थे और छह अप्रैल की सुबह इन घरों की तलाशी लेने का निर्णय लिया था। छह अप्रैल की सुबह करीब साढ़े पांच बजे किसी ने जस का शव अपने पड़ोसी के पशु के बाड़े के ऊपर शेड की छत पर फेंक दिया।

पुलिस ने शव बरामद कर परिजनों के शक के आधार पर जस की रिश्ते में लगने वाली ताई और उसके पति व सास को थाने बुलाकर पूछताछ की, क्योंकि इनके साथ जस के पिता का पहले से खेत को लेकर झगड़ा चल रहा था। पूरा गांव उन्हीं को आरोपी मान रहा था, लेकिन शनिवार को पुलिस ने इस मामले में दूसरी महिला अंजलि को गिरफ्तार कर लिया, जो कि जस की रिश्ते में चाची लगती है। आरोपी महिला करीब डेढ़ घंटे तक कोर्ट रूम में रही।

हत्यारोपी अंजली की फाइल फोटो।

हत्यारोपी अंजली की फाइल फोटो।

चार्जर से घोट दिया था जस का गला

पुलिस पूछताछ में अंजली ने खुलासा किया था कि उसी ने मोबाइल चार्जर के तार से गला दबाकर बच्चे हत्या की थी। फिलहाल पुलिस ने ढाई माह की गर्भवती आरोपी महिला को गिरफ्तार कर इंद्री कोर्ट में पेश किया था। कोर्ट ने उसे तीन दिन के रिमांड पर भेज दिया है ताकि पूरे मामले का खुलासा हो सके, क्योंकि पुलिस ने हत्या के कारणों का खुलासा नहीं किया है। जबकि परिजन रिश्ते में जस की ताई व ताऊ पर हत्या का आरोप लगा रहे थे। पुलिस द्वारा चाची को हत्यारोपी बनाए जाने पर परिजनों व ग्रामीणों को विश्वास नहीं हो रहा था।

 

खबरें और भी हैं…

.
माइक्रोसॉफ्ट रोल आउट साइन लैंग्वेज व्यू इन टीम्स; यहां देखिए यह कैसे काम करता है

.

Advertisement