करनाल में करंट लगने से श्रमिक की मौत का मामला: बिजली विभाग के JE के खिलाफ मामला दर्ज, 4 बच्चों का पिता था मृतक

19
Quiz banner
Advertisement

 

बिजली विभाग के JE पर आरोप लगाते मृतक के परिजन।

हरियाणा के जिले करनाल में मंगलवार को बिजली महकमे के अधिकारियों की लापरवाही एक श्रमिक की जान लील गई थी। सेक्टर 4 में बिजली श्रमिक पॉवर लाइन का जंफर लगाने के लिए खंम्भे पर चढ़ा था, हालाकिं बिजली महकमें के JE ने लाइन बंद होने की बात कही थी, लेकिन जैसे ही श्रमिक खंभे पर चढ़ा और जंफर लगाने के लिए तार को छुआ तो बिजली का एक जोरदार झटका लगा और वह नीचे आ गिरा। करंट लगने की वजह से श्रमिक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। पुलिस ने मंलगवार देर रात को परिजनों की शिकायत के आधार JE के खिलाफ मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

संदीप नेहरा बने नेहरा खाप अध्यक्ष: पूर्व मंत्री के बेटे को सर्वसम्मति से दी जिम्मेदारी; जगदीश नेहरा का 18 जनवरी को हुआ था देहांत

फतेहाबाद ज़िला के जलोपुर निवासी प्रेम कुमार ने बताया कि साइट इंजीनियर प्रवीन कुमार ने अग्रवाल ट्रेडर्स के मार्फ़त ठेके पर आदमी रखे हुए है। प्रेम कुमार ने बताया है कि मंगलवार दोपहर को प्रवीन कुमार ने अपने मोबाईल उसे, रमेश कुमार व बलजीत गांव मुन्शी वाली जिला फतियाबाद को 33 KV लाईन सेक्टर-4 करनाल पर पहुंच कर जम्पर लगाने है और JE राजेश से जम्पर लगाने से पहले बात करने के निर्देश दिए।

लाइन बंद है आप कम कर लो

JE राजेश से प्रेम ने फोन पर बात की, जिस पर राजेश ने कहा कि लाइन बंद है। इसके बाद प्रेम ने साइट इंजीनियर प्रवीन से बात की, तो प्रवीन ने जवाब दिया कि जहां पर आप पहुंचे हो, वह लाइन बंद है। फिर प्रेम ने राजेश JE से बात की और कहा कि जहाँ पर आप खड़े है, उसका सर्किट बंद करा दो, JE राजेश ने कहा कि बिजली पावर हाउस से बंद है, आप काम कर लो।

टाक शो में लिंग्याज के छात्रों से उद्यमी बोले: आप सफल मुकाम तभी हासिल कर सकेंगे जब उसके लिए दृढ़संकल्पित होंगे

मेडिकल कॉलेज में मौजूद मृतक के परिजन।

मेडिकल कॉलेज में मौजूद मृतक के परिजन।

करंट लगते ही खंभे से नीचे आ गिरा रमेश

रमेश कुमार खंभे पर चढ गया और खम्बा पर चढने के बाद काम करना शुरू किया तो बिजली के करंट ने ऊपर ही जला दिया और नीचे बेहोशी की हालात में नीचे गिर गया। जिस के कारण उस के शरीर पर चोटे आई। सूचना प्रवीन कुमार को दी और वह गाड़ी को लेकर मौके पर आ गया और रमेश कुमार को कल्पना चावला मेडिकल कालेज मे ले गये, जहा पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

जेई पर लगाए है आरोप

मृतक के परिजनों का आरोप है कि रमेश की मौत JE राजेश की गलती के कारण हुई है। राजेश कुमार JE ने बिजली बंद होने का झूठा आश्वासन दिया है। यदि JE राजेश लापरवाही नही बरतता तो रमेश की जान ना जाती। इतना ही नही, जो काम मज़दूरो से करवाया जा था वह लाइनमेनो का होता है।

घर मे पसरा मातम, 4 बच्चों के सिर से उठा पिता का साया

31 वर्षीय रमेश के घर कमाने वाला वह अकेला ही था। रमेश के चार बच्चे है। लेकिन इस हादसे के बाद बच्चों के सिर से पिता का साया उठ चुका है। परिवार में मातम पसरा हुआ है।

सैमसंग गैलेक्सी ऐप स्टोर में एक सुरक्षा जोखिम है: तुरंत अपडेट करें

पुलिस ने किया मामला दर्ज
सिटी थाना के SHO कमलदीप ने बताया कि परिजनों ने बिजली विभाग के पर आरोप लगाए थे। जिसके बाद पुलिस ने परिजनों की शिकायत के आधार मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

 

खबरें और भी हैं…

.

.

Advertisement