हिसार में बनेगी 2 सिंक लेक: DC ने मास्टर प्लान 2041 के लिए अधिकारियों के साथ किया शहर का निरीक्षण

23
Quiz banner
Advertisement

 

हिसार के डीसी उत्तम सिंह ने हिसार को भविष्य में सर्वश्रेष्ठ काउंटर मैग्नेट सिटी बनाते के लिए रविवार को दिनभर अधिकारियों के साथ मंथन किया। उन्होंने वरिष्ठ नगर योजनाकार मोहन सिंह तथा मरीन चीफ इंजीनियर संदीप बाना के साथ चिन्हित किये स्थानों का दौरा किया और संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए।

भ्रूण लिंग जांच और गर्भपात पर रोष: गर्भस्थ शिशु संरक्षण समिति ने सिरसा में की बैठक, जयपुर सम्मेलन का न्योता

डीसी शहर के नागरिकों की भविष्य में होने वाली आवश्यकताओं को लेकर मास्टर प्लान -2041 को अंतिम रूप देने में जुटे हुए हैं। इस प्लान को एयरपोर्ट की जरूरतों को ध्यान में रखकर इंटेग्रटेड तरीके से बनाया जा रहा है।

दो सिंक लेक बनेगी

डीसी ने बताया कि मास्टर प्लान के तहत शहर के नागरिकों को बारिश के कारण होने वाले जलभराव की समस्या से निजात दिलाने के लिए दो सिंक लेक बनाई जाएंगी, जिसमें शहर के विभिन्न क्षेत्रों का बरसाती पानी ग्रेविटी से ड्रेन हो जाएगा। इससे शहर की जलभराव की समस्या का स्थाई समाधान हो जाएगा। शहर के चारों तरफ बाईपास के पास पशुओं की डेयरी स्थापित की जाएंगी। पहली डेयरी स्थापित करने के लिए शहर में प्रकिया शुरू कर दी गई है। शहर में एक इंटीग्रेटेड पुलिस कांप्लेक्स का निर्माण किया जाएगा। इसमें पुलिस लाइन, पुलिस ट्रेनिंग सेंटर, जेल आदि एक ही बाउंड्री के अंदर होंगी।

डीसी उत्तम सिंह जानकारी लेते हुए।

डीसी उत्तम सिंह जानकारी लेते हुए।

विश्वविद्यालय और स्कूल एक ही बाउंड्री के अंदर

उन्होंने बताया कि शहर में एक जगह को एजुकेशन सिटी चिन्हित किया गया, जहां विश्वविद्यालय, इंटरनेशनल स्कूल सहित तमाम शैक्षणिक सुविधाएं 250 एकड़ की एक ही बाउंड्री में होगी। इसके साथ ही गोल्फ कोर्स और मल्टी स्पोट्र्स कांप्लेक्स जिसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर के 18 हॉल, इंटरनेशनल गोल्फ कोर्स, हॉकी, फुटबॉल, क्रिकेट स्टेडियम, एथलेटिक्स, स्विमिंग पूल जैसी विभिन्न प्रकार की खेल सुविधाएं उपलब्ध होंगी, ताकि राज्य में खिलाडिय़ों के खेलों का स्तर को ऊंचा उठाने में मदद मिले।

मस्क कहते हैं, स्टारलिंक और ऐप्पल ने अपने आपातकालीन सैटेलाइट मैसेजिंग फीचर के बारे में बात की

रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड एक ही जगह

डीसी उत्तम सिंह ने बताया कि शहर में इंटीग्रेटेड ट्रांसपोर्ट कांप्लेक्स बनाने के लिए जगह का चयन कर लिया गया है। यहां पर शहर का मेन बस स्टैंड और साथ ही रेलवे स्टेशन बनाया जाएगा, जिससे एयरपोर्ट की कनेक्टिविटी को बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। ट्रेन और बस यात्रियों का समय और पैसा दोनों बचेगा।

उन्होंने बताया कि इसी के साथ सिविल हॉस्पिटल तथा सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेटिव डिस्ट्रिक्ट भी बनाया जाएगा, जहां पर सभी सरकारी विभागों के कार्यालय एक ही बाउंड्री के अंदर होंगे । इसी के साथ अधिकारियों एवं कर्मचारियों की रिहायशी कॉलोनी का भी निर्माण किया जाएगा ताकि उनके आने जाने का समय भी बचे।

शहर में मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक पार्क के लिए भी जगह का चयन कर लिया गया है जिसके बगल में ट्रांसपोर्ट नगर होगा । उन्होंने बताया कि मास्टर प्लान के तहत अधिकतर संस्थान/परियोजनाएं सरकारी भूमि पर ही बनाई जाएंगी। प्रत्येक परियोजना के लिए वैकल्पिक स्थानों का भी चयन किया जा रहा है। अगर कहीं कोई अधिग्रहण में दिक्कत आती है तो वैकल्पिक जगह पर कार्य को आगे बढ़ाया जाएगा, ताकि परियोजनाओं में देरी न हो । उन्होंने बताया कि मास्टर प्लान से संबंधित विभागों के अधिकारियों से सुझाव भी मांगे गए हैं ताकि इस कार्य योजना को अंतिम रूप दिया जा सके।

 

खबरें और भी हैं…

.

सिद्धू मूसेवाला का छठा कातिल गिरफ्तार: वेस्ट बंगाल-नेपाल बॉर्डर से पकड़ा गया शूटर मुंडी, हथियार और ठिकाने देने वाले साथी भी पकड़े
.

Advertisement