रोहतक PGI से कैश लेकर सुपरवाइजर फरार: 4 दिन में 3.95 लाख धोखाधड़ी से हड़पे, बैंक में पैसे नहीं पहुंचे तो हुआ खुलासा

26
Quiz banner
Advertisement

 

हरियाणा के रोहतक स्थित PGI में लगे कर्मचारियों का कैश लेकर सुपरवाइजर फरार हो गया। मामला उस समय उजागर हुआ जब बैंक में पैसे नहीं पहुंचे और बैंक मैनेजर ने इसकी सूचना कंपनी के ब्रांच मैनेजर को दी। आरोपी सुपरवाइजर 3 लाख 95 हजार 525 रुपये लेकर भाग गया है। जिसकी पुलिस को शिकायत दे दी।

अंबाला NH-44 पर हादसे में बाल-बाल बचा परिवार: मलबे के लगे ढेर के कारण हुआ हादसा; NHAI प्रोजेक्ट डायरेक्टर व कांट्रेक्टर पर FIR

CMS कंपनी के ब्रांच मैनेजर अरुण शर्मा ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनकी कंपनी ने इंडस बैंक के लिए रोहतक PGI में कर्मचारी दे रखे हैं। उन कर्मचारियों पर अजय माथुर को सुपरवाईजर रखा हुआ है। 14 नवंबर को बैंक मैनेजर ने सूचना दी कि पिछले 3 दिन से कैश जमा नहीं हो रहा।

पुलिस थाना रोहतक पीजीआइ

पुलिस थाना रोहतक पीजीआइ

लाखों रुपये ले गय आरोपी
अरुण शर्मा ने बताया कि इसके बाद उसने पता किया तो पाया कि कैश कम है। इसके बाद वह PGI में गया और वहां कर्मचारियों से बातचीत की तो पता चला कि अजय माथुर 10 नवंबर को 1 लाख 65 हजार 300 रुपये, 11 नवंबर को 84 हजार 975 रुपये व ट्रामा सेंटर से 5000 रुपये लेकर चला गया है।

करते रहे आरोपी का इंतजार
उन्होंने बताया कि 15 नवंबर शाम को अजय से फोन पर बात की तो उसने 16 नवंबर को कैश लेकर आने के लिए कहा। लेकिन उसका इंतजार करते रहे। लेकिन वह वापस नहीं लौटा। उसने फोन पर कैश लेकर आने की बात कही थी, लेकिन वह ही वापस नहीं आया और जिसके कारण उस पर संदेश बढ़ता गया।

 

यमुनानगर में JE के खिलाफ प्रदर्शन: किसानों ने बिजली चोरी का झूठा केस दर्ज करने का आरोप लगाया; SE को दी शिकायत

मामला दर्ज
अरुण शर्मा ने कहा कि अजय ने अन्य कर्मचारियों से भी कैश लिया हुआ है। 12 नवंबर को 80 हजार 250 रुपये, 13 नवंबर को 20 हजार रुपये और 40 हजार रुपये। इस मामले की शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने शिकायत मिलने के बाद आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच आरंभ कर दी है।

 

खबरें और भी हैं…

.भिवानी पहुंचे डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला: बोले- कांग्रेस का अब अंत आ चुका; आप ने पंजाब को बर्बाद कर दिया

.

Advertisement