मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर की पत्नी का मामला: दुरेजा आए पत्नी के बचाव में, बोले, सरकार को दे रहा ज्यादा गाड़ी चलने के 4 रुपए प्रति किलोमीटर के पैसे

23
Quiz banner
Advertisement

 

 

कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज के डायरेक्टर अपनी पत्नी के पक्ष में अब खुलकर आ गए। उन्होंने तर्क देते हुए कहा कि उनकी पत्नी ने कुछ भी गलत नहीं किया। बतादे कि रविवार को बहादुरगढ़ में उनकी पत्नी के घर पर CM फ्लाईंग टीम द्वारा छापेमारी की गई थी। उसके बाद उनकी पत्नी पर कई गंभीर आरोप लगे थे, कि वह मेडिकल कॉलेज में डॉक्टर के पद पर रहते हुए भी। बहादुरगढ़ में हर रविवार को ओपीडी चलाती है और 300 रुपए फीस लेती है। वहीं इस दौरान सरकारी गाड़ी से हर सप्ताह वहां पर आना जाना कर अपने पति की सरकारी गाड़ी का दुरुपयोग कर रही है।

मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर की पत्नी का मामला: दुरेजा आए पत्नी के बचाव में, बोले, सरकार को दे रहा ज्यादा गाड़ी चलने के 4 रुपए प्रति किलोमीटर के पैसे

बहादुरगढ़ में डॉक्टर संगीता से पूछताछ करती CM फ्लाइंग टीम की फाइल फोटो।

जानीए क्या कुछ कहा अपनी पति के पक्ष में मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर ने

गाडी के दुरुपयोग को लेकर डॉयरेक्टर की पत्नी पर जो आरोप लगे है इस पर मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर जगदीश दुरेजा जवाब देते है कि वह गाड़ी के 1 हजार किलोमीटर चलने के बाद 4 रुपए प्रति किलोमीटर के हिसाब से पैसें सरकार को देते है। इस तरह के तर्क देकर डॉयरेक्टर यह जायब ठहराने की कोशिश कर रहे है कि उनकी पत्नी सरकारी गाड़ी से बहदुरगढ जाकर कुछ भी गलत नहीं कर रही थी।

बहादुरगढ़ में घर के बाहर खड़ी डॉयरेक्टर की सरकारी गाड़ी।

बहादुरगढ़ में घर के बाहर खड़ी डॉयरेक्टर की सरकारी गाड़ी।

उनकी पत्नी द्वारा हर सप्ताह बहादुरगढ़ में ओपीडी करने के आरोप पर भी दी सफाई

डॉयरेक्टर की पत्नी संगीता पर हर सप्ताह बहादुरगढ़ में ओपीडी चलाने वाले आरोप पर भी डॉयरेक्टर जगदीश दुरेजा ने सफाई देते हुए कहा कि 15 साल पहले वह और उसकी पत्नी वहीं के सरकारी अस्पताल में डॉक्टर थे, तब से उनका मकान वहीं पर है उनकी पत्नी वहां पर हर सप्ताह घर की साफ सफाई व देख रेख के लिए चक्कर लगाती थी। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट के आदेशों के अनुसार डयूटी टाइम के बाद डॉक्टर की अपनी प्रर्सनल लाईफ होती है। फिर भी ये क्लियर कर दूं कि बहादुरगढ़ में उनके घर के आसपास के लोग जिनसे उनका पारिवारिक रिश्ता है वो लोग उनकी पत्नी को दिखाने के लिए आ जाते है वह उन्हें चेक करके दवाइयां दे देती है। लेकिन उनकी पत्नी द्वारा वहां पर कोई अलग से ओपीडी नहीं चलाई जा रही थी।

PlayStation, Xbox के लिए फीफा 23 की कीमत बढ़ी: आप पिछले ईए स्पोर्ट्स फीफा के लिए अब कितना भुगतान करेंगे?

डॉक्टर की सरकारी गाड़ी से मरीजों को नीचे उतारती पुलिस टीम की फाइल फोटो।

डॉक्टर की सरकारी गाड़ी से मरीजों को नीचे उतारती पुलिस टीम की फाइल फोटो।

सोशल मीडिया पर वायरल विडियों में ओपीडी फीस लेने के मामले में ये कहा

मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर जगदीश दुरेजा से जब पूछा गया कि सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें आपकी पत्नी मरीज से 300 रुपए फीस ले रही है आपकी पत्नी सरकारी गाड़ी में मरीजों को अपने घर लेकर आ रही है उस पर क्या कहेगें। इस पर जवाब देते हुए कहा इस मामले की विभाग जांच करेगा। इस पर वह कुछ नहीं कहेगें।

जानकारी देते मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर जगदीश दुरेजा।

जानकारी देते मेडिकल कॉलेज के डॉयरेक्टर जगदीश दुरेजा।

कहा साजिश के तहत छवि खराब करने की हुई कोशिश

वहीं डॉयरेक्टर ने किसी का नाम न लेते हुए कहा कि किसी ने साजिश के तहत उनकी छवि को खराब करने की कोशिश की है। CM फ्लाइंग की टीम को मेरे घर से कुछ भी बरामद नहीं हुआ है। मेरी पत्नी को भी टीम द्वारा उसी समय छोड़ दिया गया था। बाकी टीम को जो भी वहां से बरामद हुआ होगा उसकी जांच रिपोर्ट जल्द ही सबके सामने आ जाएगी।

 

खबरें और भी हैं…

.कुरुक्षेत्र में बदमाशों की गुंडागर्दी: 3 युवकों को कुचलने का प्रयास; गोलियां चलाईं; अस्पताल में छिपा तो वहां पहुंच कर फायरिंग की

.

Advertisement