मानवता की सेवा ही जीवन का सर्वोत्तम कार्य है: गीतांजलि कंसल

77
Advertisement
एस• के• मित्तल
सफीदों,         मानवता की सेवा ही जीवन का सर्वोत्तम कार्य है। यह बात समाजसेविका गीतांजलि कंसल ने कही। वे एमडी स्कूल द्वारा नगर की भाट बस्ती में आयोजित गरीब बच्चों को वस्त्र वितरण कार्यक्रम को संबोधित कर रहीं थी। इस मौके पर दर्जनों बच्चों को ठण्ड से बचने के लिए गर्म वस्त्र वितरित किए गए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में भंयकर ठण्ड का मौसम चल रहा है।
समाज में ऐसा अभावग्रस्त वर्ग भी है जो इस ठण्ड से बचने के लिए गर्म वस्त्र नहीं खरीद सकता। ऐसे में इन लोगों को ठण्ड में कुछ निजात दिलाने के लिए यह गर्म वस्त्रों का वितरण किया गया है। इस प्रकार की पहल हर किसी को करनी चाहिए। अगर कोई नए वस्त्र वितरित नहीं कर सकता है तो वह अपने घरों के पुराने कपड़े जरूर वितरण कर सकता है। इस छोटी से पहल के द्वारा जरूरतमंद लोगों की सीधे तौर पर सहायता की जा सकती है।
Advertisement