पहली से नौवीं तक के स्कूल खोलकर सरकार ने दिया बच्चों को तोहफा, बच्चों में दौड़ी खुशी की लहर

125
Advertisement
एस• के• मित्तल
सफीदों,     सरकार की हिदायतों के अनुसार वीरवार को पहली से नौवीं तक के सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूल खुल गए हैं। स्कूलों के खुलने से स्कूल संचालकों के साथ-साथ बच्चों में विशेष खुशी देखने को मिल रही है। लंबे समय के बाद स्कूलों में पहुंचकर बच्चे अपने सहपाठियों से मिले। गौरतलब है कि इससे कुछ दिनों पूर्व सरकार ने 10वीं से 12वीं तक की कक्षाओं को प्रारंभ करने की अनुमति दे दी थी। नगर के राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में की बात करें तो वहां पर भी बच्चियां काफी खुश दिखाई दी। छात्राओं का कहना था कि एक लंबे समय के बाद उन्हें स्कूल में आकर काफी अच्छा लग रहा है। उनका कहना था कि ऑनलाइन क्लासों में उन्हें बहुत कम समझ में आता था। अब वे अपने  अध्यापकों से सीधे शिक्षा ग्रहण करेंगे। मोबाइल पर कई-कई घंटों तक ऑनलाईन कक्षाएं ग्रहण करने से उनकी आंखों पर भी विपरीत प्रभाव पड़ रहा था। इसके अलावा उन्हे स्कूल में पढ़ाई करने से उचित माहौल प्राप्त होगा। स्कूल के हैडमास्टर सतीश गुप्ता का कहना था कि सरकार द्वारा उचित समय पर लिया गया यह एक बहुत अच्छा निर्णय है। ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान बच्चों को अनेक प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होती थी। खासकर गरीब परिवारों के मुखिया अपने बच्चों के लिए अलग से मोबाइल लेने में असमर्थ थे तथा गांवों में इंटरनेट कनेक्टिविटी की भी बेहद समस्या रहती थी।
यह भी देखें:-
सरकार का तोहफा… आज से खुले सभी स्कूल… बच्चों  एवं अध्यापकों में उत्साह… देखिए लाइव रिपोर्ट 
बच्चे अगर अध्यापकों के सामने बैठकर पढेंगे तो अध्यापक भी उन्हें अच्छी तरह से गाइडलाइन दे पाएंगे। उन्होंने कहा कि अब बच्चों व उनके परिजनों को लगभग कोरोना वैक्सीनेशन हो चुका है तथा अब पढ़ाई में किसी प्रकार की समस्या आने वाली नहीं है। महामारी के कारण कहीं ना कहीं बच्चों की पढ़ाई में नुकसान जरूर हुआ है लेकिन अब सभी शिक्षक पूूरी मेहनत करके बच्चों को पढ़ाएंगे तथा बेहतर परिणाम लाने की कोशिश करेंगे।
YouTube पर यह भी देखें:-

Advertisement