निरीक्षण: सिविल अस्पताल, 4 सीएचसी, 8 पीएचसी व 7 सब सेंटरों को मिलेंगे 12.75 लाख

12
Quiz banner
Advertisement

 

नागरिक अस्पताल को कायाकल्प योजना के तहत मिलेगा 3 लाख रुपये का इनाम, अब अव्वल लाने की तैयारी।

जिले के नागरिक अस्पताल में सफाई व्यवस्थाएं सुधरी हैं, वहीं बेहतरीन इलाज मुहैया कराने की कोशिशें जारी हैं। ऐसा हम नहीं बल्कि स्टेट हेड क्वाटर से निरीक्षण को पहुंची कायाकल्प टीम ने भेजी रिपोर्ट में जस्टिफाई किया है। जिसकी बदौलत अस्पताल को अवार्ड के तौर पर 3 लाख रुपये इनाम मिलेगा। डबल राउंड निरीक्षण के दौरान अस्पताल संबंधित प्वाइंटों पर 70 फीसदी खरा उतारा था। जबकि जिले की 4 सीएचसी जिसमें ओढ़ां, माधोसिंघाना, कालांवाली, रानियां को एक- एक लाख और 8 पीएचसी को 50-50 हजार रुपये राशि जारी होगी। जिसका उपयोग मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने में हो सकेगा।

स्वर्णप्रस्थ संग्रहालय में फोटो प्रदर्शनी का उद्घाटन: सोनीपत के एसपी हिमांशु गर्ग बोले- जवानों की बहादुरी युवाओं के लिए प्रेरणादायक

वार्डों व बाथरूम की टाइलों और दरबाजों को किया दुरुस्त

जिले के नागरिक अस्पताल में सीएमओ, पीएमओ की ओर से समय- समय पर औचक निरीक्षण किया गया था। जिसमें लापरवाहियां उजागर हुई, तो उनको सुधारा गया। बायोमेडिकल वेस्ट की व्यवस्था की गई। इससे काफी सुधार आए। सुविधा के लिए हेल्प डेस्क बनाया गया। वार्डों व बाथरूम की टाइलों और दरबाजों को दुरूस्त किया। जिसके बाद अस्पताल के हालात काफी सुधरे हैं। इसके अलावा कायाकल्प योजना के नोडल अधिकारी डॉ. पंकज कुमार की टीमें व्यवस्थाओं को सुधारने में जी- जान से जुटी हैं।

ग्रामीण स्वास्थ्य सेवाएं सुधरेंगी

कालाकल्प योजना के तहत जिले में 8 पीएचसी (प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र) जिनमें धोतड़, पन्नीवाला मोटा, दड़बा कलां, पनिहारी, जमाल, बनसुधार, खारियां शामिल हैं। जहां अच्छी व्यवस्थाएं होने की पुष्टि के बाद सरकार ने इनाम के तौर पर 50-50 हजार रुपये जारी करने का फैसला लिया है। जबकि 7 सब- सेंटर (हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर) जोकि गांव बनसुधार, चक्कां, धिंगतानियां, ढूकड़ा, मलड़ी व ख्योवाली को 25-25 हजार रुपये राशि इनाम दी जाएगी। ऐसे में 5 लाख 75 हजार रुपये ग्रामीण क्षेत्रों के स्वास्थ्य केंद्रों में मरीजों को बेहतर इलाज हेतु खर्च होंगे। जहां योजना में अव्वल आने को हेल्थ टीमों के बेहतरीन प्रयास हैं। जिससे ग्रामीण स्वास्थ्य सेवाएं सुधरेंगी।

यमुनानगर में रोड एक्सीडेंट में युवक की मौत: औरंगाबाद फ्लाईओवर के नीचे कार ने बाइक को मारी टक्कर; बचा नहीं पाए डॉक्टर

जाने क्या है कायाकल्प

स्टेट कायाकल्प टीमें प्रदेशभर के जिला अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों का औचक निरीक्षण करते हैं। जिनमें तय मानकों के आधार पर जांचा जाता है। इस आधार पर रिपोर्ट तैयार कर उच्च अधिकारियों को प्रेषित होती है। रिपोर्ट में 100 नंबरों में से रैंक दिए जाते हैं। इसके बाद जो अस्पताल उस रैंक में प्रथम स्थान प्राप्त करेगा।

उसे सरकार की ओर से कायाकल्प अवार्ड के रूप में कैश 50 लाख रुपये देने का प्रावधान है। जिसे अस्पताल की सुविधाओं पर खर्च किया जाएगा। इस बार जिसमें पानीपत अस्पताल अव्वल आया है। लेकिन इसके बावजूद जिले के अस्पतालों में सराहनीय भूमिका अदा की है।

कायाकल्प अवाॅर्ड जीतने के साथ-साथ मरीजों को मुहैया करवाएंगे बेहतर इलाज

“नागरिक अस्पताल सिरसा को 3 लाख सहित जिले के 19 स्वास्थ्य केंद्रों को 12 लाख 75 हजार रुपये इनाम मिलेगा। जिन कमियों से पिछले उनको सुधारा जाएगा। जिससे अस्पताल मानकों पर खरा उतरेगा। कायाकल्प अवाॅर्ड जीतने के साथ- साथ मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया करवाने के हर संभव प्रयास रहेंगे।”
-डॉ. पंकज अग्रवाल, कायाकल्प इंचार्ज नागरिक अस्पताल सिरसा ।

 

खबरें और भी हैं…

.

Logitech B2B: सबसे लोकप्रिय कंप्यूटर सहायक उपकरण ब्रांड के लिए एक ब्रांड-नई पहचान
.

Advertisement