नशा तस्करों पर एंटी नारकोटिक्स सेल ने कसा शिकंजा: अब तक 5 आरोपी गिरफ्तार, 3 अभी भी फरार, 1050 नशीले इंजेक्शन बरामद

31
Quiz banner
Advertisement

 

 

हरियाणा के जिले करनाल के मधुबन में स्थित हरियाणा एंटी नारकोटिक्स सेल ने नशीले इंजेक्शन बेचकर युवाओं और उनके भविष्य से खिलवाड़ करने वाले राष्ट्रीय स्तर के कुश्ती प्लेयर को गिरफ्तार करने के बाद चार अन्य आरोपियों को पकड़ने में कामयाब हासील की है।

मजबूर पिता बेटे के इलाज के लिए मांग रहा मदद: रोहित ने भी मुख्यमंत्री से लगाई इलाज की गुहार, दूसरे लोगों की मदद का मोहताज बना मजदूर नरेश

नारकोटिक्स सेल ने भारी मात्रा में नशे के इंजेक्शन इन आरोपियों से बरामद किए है। पांचवे आरोपी को आज पुलिस कोर्ट में पेश करेगी। वहीं इस मामले में 3 अन्य आरोपी अभी भी फरार चल रहे है। जिनकी तलाश नारकोटिक्स सेल कर रही है।

 

एन्टी नारकोटिक्स सेल ना सिर्फ नशे पर लगाम लगाने का काम करता है बल्कि नशे के जरिये युवाओं को भविष्य बर्बाद करने वालो की भी धरपकड़ करता है। बीते सप्ताह एन्टी नारकोटिक्स की टीम ने कुश्ती में राष्ट्रीय स्तर पर सिल्वर मेडल जीतने वाले पानीपत के एक पहलवान कौशल को इसराना के कैथ गांव से गिरफ्तार किया था। आरोपी के पास से पुलिस को 145 नशे के इंजेक्शन बरामद हुए थे। इन इंजेक्शन का इस्तेमाल स्टेमिना बढ़ाने के लिए किया जाता है।

नशा तस्करों पर एंटी नारकोटिक्स सेल ने कसा शिकंजा: अब तक 5 आरोपी गिरफ्तार, 3 अभी भी फरार, 1050 नशीले इंजेक्शन बरामद

आरोपी को हिरासत में लेती पुलिस।

कड़ियों को जोड़ने में लग गई पुलिस

नशे का ये धंधा पहलवान ने कैसे शुरू किया और कहां से नशीले इंजेक्शन लेकर पहलवान आया था और कौन व्यक्ति इसे यह सप्लाई दे रहा था। पुलिस ने इन सवालों के जवाब जानने के लिए कौशल से पूछताछ की। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, कौशल ने खुलासा किया कि दिल्ली करोल बाग का राजू शुक्ला नाम का व्यक्ति है जिसकी फार्मेसी की दुकान है और वही से वह इंजेक्शन लेकर आया था। जिसके बाद राजू शुक्ला को अरेस्ट किया गया। राजू शुक्ला से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह अब्दुल रहीम से लेकर आया था। अब्दुल रहीम को गिरफ्तार किया गया तो उससे 900 इंजेक्शन बरामद हुए।अब्दुल रहीम ने पूछताछ में बताया कि वह रणजीत उर्फ मोंटी से इंजेक्शन लेकर आया था। जिसको गिरफ्तार कर लिया गया। यह इस मामले का बैक चेन पार्ट था।

अगर फ्रंट चैन की बात की जाए तो आरोपी कौशल ने पुलिस को बताया है कि घरौंडा को एक रवि नाम का लड़का है जो अलग अलग टेस्ट की सेंपलिंग का काम करता है। जिसको गिरफ्तार कर लिया गया। अब रवि बता रहा है कि उसने किसी ओर व्यक्ति को इंजेक्शन बेचे है।

जानकारी देते DSP वीरेंद्र सैनी।

जानकारी देते DSP वीरेंद्र सैनी।

1050 इजेक्शन कर चुकी है पुलिस बरामद

​​​​​​​एन्टी नारकोटिक्स सेल के DSP वीरेन्द्र सैनी ने बताया है कि इस मामले में कुल 5 व्यक्ति अरेस्ट हो चुके है और 1050 इंजेक्शन बरामद किए जा चुके है और उम्मीद है कि इस मामले में पुलिस 2 हजार इंजेक्शन बरामद करेगी। DSP ने बताया कि यह एक स्टेरॉयड है जिसे पहलवान भी इस्तेमाल करते है और अन्य व्यक्ति भी अलग अलग तरीके से इस्तेमाल करते है।

महेंद्रगढ़-कोसली सीधी बस चलाने की मांग: लोगों ने डीसी को बताया- कोरोना महामारी के समय बंद की गई; दोबारा से चलवाएं

इसके अलावा पांचवे आरोपी को आज माननीय कोर्ट में पेश किया जाएगा। इसके बाद अन्य आरोपियों की पुलिस गहनता से तलाश करेगी, ताकि नशे को जड़ से खत्म किया जा सके। इस मामले में अन्य 3 और आरोपी अभी फरार चल रहे है। जल्द ही उन आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया

.

.

Advertisement