नकली पुलिसकर्मी बनकर लूट करने आए गिरोह का एक और सदस्य काबू

57
Advertisement

 

 

7 सदस्यों को मौके से काबू कर भेज चुकी है जेल  

 

एस• के • मित्तल     

जींद, नरवाना में पुलिस की वर्दी पहन कर लूटपाट करने वाले गिरोह के एक और सदस्य को काबू किया गया है। इन लोगों ने पुलिस टीम पर फायरिंग की थी जिससे पुलिस कर्मी बाल बाल बचे थे। सीआईए नरवाना टीम ने पुलिस अधीक्षक जींद नरेंद्र बिजारनिया के दिशा निर्देशानुसार अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान के तहत बड़ी कामयाबी हासिल की है।

कोरोना काल में मां-बाप का साया खो चुकी पायल को 51 हजार रूपये की राशि की भेंट

सीआईए नरवाना इंचार्ज सुखदेव सिंह की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए दनौदा गांव के पास पुलिस की वर्दी पहनकर नकली पुलिस बनकर लोगों के साथ ठगी व लूटपाट करने वाले गिरोह के एक और सदस्य को काबू करने में कामयाबी हासिल की है। पकड़े गए आरोपी की पहचान रणबीर वासी कन्हेरी फतेहाबाद के रूप में हुई है। जांच अधिकारी दनोदा चौकी इंचार्ज नरेश कुमार ने बताया कि सी.आई.ए. नरवाना की एक टीम ने पिछले दिनों पंचायत चुनाव के संबंध में पैट्रोलिंग ड्यूटी के दौरान दनौदा बाईपास पर गुप्त सूचना के आधार पर 7 व्यक्तियों को काबू किया था।

सोनी चीन में वीडियो गेम विकसित करने के लिए महत्वपूर्ण निवेश करने की योजना बना रही है

जिनमे दो गाड़ी इनोवा व कुछ रिट्ज में सवार थे जिनमें से 2 बदमाश पुलिस की वर्दी में मिले तथा उनके पास अवैध असला भी था। इनोवा गाड़ी पर नीली बत्ती लगी हुई थी। जब उन्हें गिरफ्तार किया गया तब वे गांव दनौदा से सैंथली रोड़ पर किसी लूटपाट व ठगी की वारदात को अंजाम देने वाले थे। सूचना मिलते ही सैंथली दनौदा रोड नहर पुल पर ट्रैप लगाकर रिट्ज कार, एस्प्रेसो कार व एक इनोवा गाड़ी जिसके ऊपर नीली वा लाल बत्ती लगी हुई थी से चार आदमी जिनमें से दो पुलिस की वर्दी में थे को पुलिस पार्टी ने इनोवा व एस्प्रेसो गाड़ी में बैठे व्यक्तियों को काबू किया था।

एचपी वैश्विक कार्यबल को कम करेगा, लगभग 6,000 कर्मचारियों की छंटनी करेगा

जिस दौरान रिट्ज गाड़ी से उतरे सत्यवान व अशोक ने भागने की कोशिश की और सत्यवान वासी सच्चाखेड़ा ने ए.एस.आई. अवतार सिंह व पुलिस पार्टी पर गोली चला दी जिससे अवतार सिंह बाल-बाल बच गए। भगाते हुए सैंथली की तरफ एक महिंद्रा गाड़ी को सीधी टक्कर मारी थी। पुलिस ने उन्हें काबू कर आरोपी सत्यवान के कब्जे से एक नाजायज पिस्तौल 315 बोर, दो जिंदा कारतूस बरामद किए थे। इसके अलावा इनोवा गाड़ी में 6 नकली नंबर प्लेटें, पुलिस की वर्दी, एस्प्रेसो कार में व्यक्तियों से कुल 4 लाख के असली करेंसी नोट बरामद हुए थे। सी.आई.ए. नरवाना ने जिस गिरोह के 7 सदस्यों को काबू किया गया। इस गिरोह के सदस्य लोगों को नोट दोगुने करने का झांसा देकर पूरी योजना बना कर लूटते थे। जब वे ऐसी ही एक योजना के तहत दनौदा से सैंथली रोड़ पर लूट की वारदात को अंजाम देने वाले थे तभी सी.आई.ए. पुलिस टीम ने इन्हें धर दबोचा। इसी गिरोह के एक और सदस्य रणबीर वासी कन्हेरी जिला फतेहाबाद को पुलिस ने काबू कर अदालत के आदेश पर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

Advertisement