दो दिन बारिश से जगह-जगह जलभराव: पानीपत में जमकर बरसे बदरा; शहर के पॉश एरिया भी जलमग्न, पानी में उतरी ट्रैफिक पुलिस

28
Quiz banner
Advertisement

 

 

प्रदेश भर में अनेकों जगहों पर दो दिन से खूब बारिश हो रही है। जिससे चारों ओर पानी-पानी हो गया है। पानीपत शहर में जलभराव की वजह से लोगों के हाल बेहाल हैं। वहीं मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। अभी 48 घंटे तक बारिश होगी।

दो दिन बारिश से जगह-जगह जलभराव: पानीपत में जमकर बरसे बदरा; शहर के पॉश एरिया भी जलमग्न, पानी में उतरी ट्रैफिक पुलिस

शुक्रवार को भी सुबह से ही बारिश हो रही है। शहर के पाश क्षेत्र जलमग्न हो गए। शुक्रवार दोपहर तक पानीपत में 25 MM से भी ज्यादा बारिश हुई है। इसराना में हुई बारिश सबसे ज्यादा है। रातभर से झमाझम बारिश हो रही है।

नेशनल हाइवे पर खादी आश्रम के बाहर खूब पानी भर गया है। यहां से हजारों की संख्या में वाहन गुजरते हैं। उन्हें परेशान होते देख ट्रैफिक पुलिस रेनकोट पहन कर बारिश के पानी में उतर गई। पुलिस ने ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू करवाते हुए जाम की स्थिति बनने से बचाई।

नेशनल हाइवे पर खादी आश्रम के बाहर रेनकोट पहन कर बारिश में उतरे पुलिसकर्मी ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू करते हुए।

नेशनल हाइवे पर खादी आश्रम के बाहर रेनकोट पहन कर बारिश में उतरे पुलिसकर्मी ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू करते हुए।

दिल्ली की चार मशीनें भी व्यर्थ

पानीपत के हालात ऐसे खराब हो चुके है कि हर जगह जलभराव की समस्या पैदा हो गई है। सनौली रोड सबसे ज्यादा परेशानी बन गई है। तापमान में गिरावट दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहा।

ज्योतिषों ने महिला से हड़पे 8 लाख: समस्याओं के समाधान के लिए किया था संपर्क; काले जादू का आरोप, हिसार में 2 पर FIR

जबकि न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहा। नगर निगम दावे किए थे कि शहर में कहीं भी जलभराव नहीं होने देंगे। इसके बावजूद शहर में कई जगहों पर जलभराव की समस्याएं बन गई। निगम प्रशासन ने दिल्ली से मंगवाई चार मशीन भी शहर को डूबने से नहीं बचा सकी।

सबसे ज्यादा जलभराव की समस्या जीटी रोड व असंध रोड, पुराना इंडस्ट्रियल एरिया, सेक्टर 29 व तहसील कैंप का एरिया पूरी तरह से जलमग्न हो गया है।

बिशन स्वरूप कॉलोनी में भरा पानी।

बिशन स्वरूप कॉलोनी में भरा पानी।

बारिश में स्कूली बच्चे भी हुए परेशान

तेज बारिश होने के कारण स्कूली बच्चों को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बस भी समय पर बच्चों को लेने के लिए नहीं पहुंच सकी। जिसके बाद बच्चे घरों में ही रहे। बारिश के कारण जीटी रोड पर जलभराव की समस्या रही।

जिसके कारण लंबा ट्रैफिक जाम रहा। खादी आश्रम से गोहाना मोड सबसे ज्यादा ट्रैफिक जाम रहा। सुबह से ही लोग जाम में फंसे रहे। ट्रैफिक पुलिस के भी जाम खुलवाने के लिए कड़ी मश्कत करनी पड़ी।

पानीपत नगर निगम हाउस मीटिंग आज: नए कमीश्नर की अध्यक्षता में पहली बैठक; सभी पार्षदों से जरूरी कामों की मांगी जाएगी सूची

यहां-यहां हुआ जलभराव
तहसील कैंप, कच्चा कैंप, सेक्टर 11-12, ओल्ड इंडस्ट्रियल एरिया, सनौली रोड, ऊझा रोड, गीता कालोनी, किशनपुरा के अलावा सेक्टर 29 पार्ट वन, पार्ट टू, सेक्टर 25 समेत अनेकों जगहों पर जलभराव हो गया है।

 

.

.

Advertisement