गौशालाओं में तूड़ी की व्यवस्था के लिए उपायुक्त ने सामाजिक-धार्मिक संगठनों से की सहयोग की अपील

 

एस• के• मित्तल
जींद, उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने जिला की गौशालाओं और नंदीशाला में तूड़ी व चारे की व्यवस्था करने के लिए सामाजिक-धार्मिक संगठनों से अपील करते हुए कहा कि जिला के गोवंश को तूड़ी/ चारा उपलब्ध करवाने में अपना अपेक्षित सहयोग दें।

मारपीट कर स्कुटी सहित अपहरण मामले को सुलझाते हुए उप-पुलिस अधीक्षक श्री रोहताश सिंह ने प्रैस कांफ्रेंस में किया खुलासा… देखिए लाइव…

उन्होंने कहा कि फसल कटाई के बाद अब खेतों में तूड़ी बनाने का काम हो रहा है। जिला में अनेक गौशालाएं और नंदीशालाएं सामाजिक सहयोग से चलाई जा रही है। इनमें गोवंश के लिए तूड़ी / चारे की व्यवस्था करना हम सबका नैतिक दायित्व बनता है। ग्रामीण इस कार्य में आगे आए और सहयोग दें।
उन्होंने जिला की अन्य सामाजिक-धार्मिक संगठनों से कहा है कि वे अपना दायित्व निभाते हुए गोवंश के लिए तूड़ी/ चारे की व्यवस्था में सहयोग करे। जिला प्रशासन भी गोशालाओं व नंदीशालाओं में इस व्यवस्था के लिए काम कर रहा है। जो भी सामाजिक-धार्मिक संगठन इस कार्य में सहयोग देना चाहते हैं वे जिला प्रशासन या संबंधित गौशाला प्रबंधकों से संपर्क कर सकते हैं।

Income Tax History of India: 1857 के सिपाही विद्रोह से है ‍इनकम टैक्‍स का कनेक्‍शन, जानें इन पैसों का क्‍या करती है सरकार

इसके अलावा उपायुक्त ने जिला की गौशालाओं में तूड़ी व चारे की व्यवस्था करने के लिए राजस्व और पंचायत विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आपसी तालमेल कर गांवों की गौशालाओं में चारा पहुंचाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि फसल कटाई के बाद अब खेतों में तूड़ी बनाने का काम जोरों पर है। गांव स्तर पर तैनात पटवारी और ग्राम सचिव तालमेल बनाए और क्षेत्र से संबंधित गौशालओं से संपर्क कर वहां यह चारे की व्यवस्था करवाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!