करनाल में दलित संगठनों ने निकाला कैंडल मार्च: आज डीसी को देंगे ज्ञापन, मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की मांग की, जल्द मिले मासूम को न्याय

26
Quiz banner
Advertisement

 

मंगलवार देर शाम को हरियाणा के करनाल में राजस्थान के जालोर में स्कूल में रखे मटके से पानी पीने से गुस्साए एक शिक्षक द्वारा दलित समुदाय से संबंध रखने वाले मासूम बच्चे को पीट-पीटकर हत्या के विरोध में दलित संगठनों ने कैडल मार्च निकालकर रोष मार्च निकाला। दलित संगठनों ने सरकार से मांग कि मासूम बच्चे के हत्यारोपी को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए ताकि आगे से ऐसी घिनौनी वारदात करने की कोई हिम्मत न कर सकें।

करनाल में गाड़ी के आगे आए आवारा पशु: टला बड़ा हादसा, गाड़ी में उत्तर प्रदेश से लेकर आ रहा था गुड, गाड़ी का शीशा तोड़कर निकला ड्राइवर को बाहर

एडवोकेट मानसिंह, एडवोकेट नरेश रंगा, पिरथी सिंह, रमेश ने बताया कि दलित समुदाय के 9 वर्षीय बच्चे को स्वर्ण जाति से संबंधित शिक्षक ने पीट-पीटकर घायल कर दिया,परिजनों ने मासूम को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर मासूम की दर्द से कराहते हुए इलाज के दौरान मौत हो गई। मासूम बच्चे की मौत से पूरे दलित समुदाय में गुस्से का माहौल बना हुआ है।

अंबेडकर चौक पर कैंडल मार्च लेकर पहुंचे संगठन के सदस्य।

अंबेडकर चौक पर कैंडल मार्च लेकर पहुंचे संगठन के सदस्य।

वाल्मीकि चौक से अंबेडकर चौक निकाला कैंडल मार्च

समुदाय के लोगों ने कहा कि रविदासिया समाज के आह्वान पर दलित संगठनों ने वाल्मीकि चौक से लेकर डॉ. अम्बेडकर चौक तक कैंडल मार्च निकालकर मासूम को श्रद्धांजलि अर्पित करी साथ ही हत्यारोपी को जल्द से जल्द फांसी की सजा की मांग की। कैंडल मार्च में काफी संख्या में दलित समुदाय के संगठनों के कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कैंडल मार्च में शामिल लोग हाथों में हत्यारोपी को फांसी की मांग लिखी हुई तख्तियां लेकर चल रहे थे, हत्यारोपी को फांसी की मांग को जोरदार नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि आज 11 बजे दलित संगठनों द्वारा डीसी को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

सांकृतिक कार्यक्रमों में स्कूली बच्चों द्वारा देश की आजादी, तिरंगा हमारी शान की दी प्रस्तुतियां

सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट हो मामले की सुनवाई

वहीं दूसरी ओर अम्बेडकर चौक से भगवान वाल्मीकि चौक तक भी कैंडल मार्च निकाला गया, कैंडल मार्च का नेतृत्व एडवोकेट सोनिया तंवर ने किया। उन्होंने मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाने की मांग की। उन्होंने कहा कि अगर आरोपी को जल्द से जल्द फांसी की सजा नहीं दी गई तो संगठन तीव्र आंदोलन चलाने से पीछे नहीं हटेंगे।

 

खबरें और भी हैं…

.श्री ज्ञानी राम मैमोरियल हस्पताल सफीदों की तरफ से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं…

.

Advertisement