Tata Motors, Ashok Leyland समेत ये ऑटो शेयर कराएंगे कमाई, Q4 में कंपनियों की कमाई बढ़ने की उम्मीद

106
Advertisement

Auto Sector Q4FY22 Preview: ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री लंबे समय से अंडरपरफॉर्मर रहा है. पहले बीएस 4 से बीएस 6 कन्वर्जनऔर बाद में कोविड 19 लॉकडाउन के चलते इंडस्ट्री पर असर रहा. वहीं कोविड 19 की चुनौतियों से सेक्टर निकलने की कोशिश में था तो सेमीकंडक्टर की कमी के चलते एक बार फिर मुश्किलें बढ़ी हैं. अब वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही के लिए आने वाले नतीजों पर बाजार की नजर है. मार्च तिमाही के नतीजों से सेक्टर के लिए आउटलुक का सही अंदाजा मिलेगा. फिलहाल एक्सपर्ट और ब्रोकरेज हाउस ऑटो सेक्टर के अर्निंग अनुमान दे रहे हैं. ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज की रिपोर्ट के अनुसार टू व्हीलर्स पर अभी दबाव देखने को मिल सकता है, लेकिन अन्य कटेगिरी में डबल डिजिट में ग्रोथ की उम्मीद है. इनमें भी कमर्शियल व्हीकल सेग्मेंट आउटपरफॉर्म कर सकता है.

पैसेंजरी व्हीकल सेग्मेंट में डिमांड मजबूत

ब्रोकरेज हाउस आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज के अनुसार इकोनॉमिक एक्टिविटीज में तेजी से सुधार देखने को मिल रहा है. कमर्शियल व्हीकल सेग्मेंट साइक्लिकल रिकवरी है. रिटेल सेल्स में वॉल्यूम में (मार्च 2022 रिटेल पूर्व-कोविड स्तरों के 93% पर) अच्छा पिकअप है. वहीं सेमीकंडक्टर की कमी, रॉ मटेरियल की बढ़ रही कीमतों और क्रूड महंगा होने के बाद भी पैसेंजर व्हीकल सेग्मेंट में मजबूत डिमांड बनी हुई है.

CV स्पेस कर सकता है आउटपरफॉर्म

ब्रोकरेज के अनुसार Q4FY22 के दौरान इंडस्र्टी का कुल वॉल्यूम तिमाही आधार पर 3.6 फीसदी कम रहने का अनुमान है. 2-W स्पेस में दबाव बना हुआ है. इसके वॉल्यूम में तिमाही आधार पर 8 फीसदी गिरावट देखने को मिल सकती है. हालांकि ब्रोकरेज हाउस का मानना है कि अन्य सभी कटेगिरी में (ट्रैक्टर को छोड़कर) तिमाही आधार पर डबल डिजिट रिटर्न देखने को मिल सकता है. इसमें भी CV स्पेस में 20 फीसदी ग्रोथ देखने को मिल सकती है.

वॉल्यूम ग्रोथ

OEM फ्रंट पर 2-W स्पेस में Eicher Motors अपने पियर्स की तुलना में आउटपरफॉर्म कर सकता है. कंपनी का RE वॉल्यूम तिमाही आधार पर 9.5 फीसदी बढ़ा है. Hero MotoCorp में तिमाही आधार पर वॉल्यूम 8 फीसदी घटा है. जबकि Baja Auto के कुल वॉल्यूम में 17.3 फीसदी गिरावट रही है. PV डोमेन में Maruti Suzuki के वॉल्यूम में तिमाही आधार पर 13.5 फीसदी ग्रोथ देखने को मिली है. Tata Motors (TML) का वॉल्यूम (PV+CV) 22 फीसदी बढ़कर 2.4 लाख यूनिट रहा है. M&M के वॉल्यूम में 28.7 फीसदी ग्रोथ रही. Ashok Leyland के वॉल्यूम में 43 फीसदी ग्रोथ देखने को मिली. OEM यूनिवर्स की सेल्स में QoQ 7.6 फीसदी ग्रोथ रही.

किन शेयरों में निवेश की सलाह

Advertisement