AAP हरियाणा में भी मुद्दा शिक्षा को बनाएगी: 105 स्कूल बंद किए जाने के खिलाफ पार्टी; 12 पक्के धरने लगाए, 15 जिलों में विरोध प्रदर्शन

17
Advertisement

 

 

पंजाब में शिक्षा को मुद्दा बनाकर सत्ता में आई AAP हरियाणा में भी एजुकेशन पर फोकस कर रही है। यही वजह है कि सूबे में 105 स्कूलों को बंद किए जाने के फैसले को आम आदमी पार्टी भुनाने में लगी है। अब तक सरकार के इस फैसले के विरोध में AAP नेता 12 जगहों पर पक्के धरने लगा चुके हैं। 15 जिलों में नेता लगातार ग्रामीणों को साथ लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

यमुनानगर में मांगों को लेकर किसानों का प्रदर्शन: खराब फसलों और लंपी बीमारी से मरे पशुओं पर मांगा मुआवजा; डीसी को ज्ञापन

बंद होने वाले 2 हाई स्कूल, 97 मिडिल स्कूल

सरकार के नए आदेश के अनुसार, मर्ज किए जाने वाले कुल 105 स्कूलों में दो हाई स्कूल हैं, जहां से 25 से कम विद्यार्थी हैं। 97 मिडिल स्कूल ऐसे हैं, जहां पर 20 से कम विद्यार्थी हैं और 6 स्कूल ऐसे हैं, जहां विद्यार्थियों की संख्या 10 से कम है।

स्कूलों को बंद किए जाने के विरोध में कांग्रेस का हस्ताक्ष अभियान।

शिक्षा मंत्री के गृह जिले में 22 स्कूल

खास बात यह है कि मर्ज होने वाले स्कूलों में सबसे अधिक 22 संख्या शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर के गृह जिले यमुनानगर से हैं। कुरुक्षेत्र में 14, रेवाड़ी-महेंद्रगढ़ 10-10, झज्जर 9, भिवानी 8, अंबाला 6, चरखी दादरी 5, जींद 3, कैथल-करनाल, मेवात, पलवल 2-2, पंचकूला, रोहतक, सोनीपत, सिरसा व हिसार जिले में 1-1 स्कूल को समायोजित किया जाना है।

हिसार में आज ग्रीवेंस कमेटी की बैठक: बिजली मंत्री रणजीत सिंह करेंगे अध्यक्षता; 14 मामलों की होगी सुनवाई

आज चंडीगढ़ में जुटेंगे आप नेता

स्कूलों को बंद किए जाने के विरोध में AAP नेता चंडीगढ़ में जुटेंगे। इनमें दिल्ली के मुख्यमंत्री अरिवंद केजरीवाल के राष्ट्रीय सलाहकार अनुराग ढांडा, हरियाणा सह प्रभारी दिनेश प्रताप, राज्य संगठन मंत्री प्रवीण प्रभाकर गौड़, उत्तर क्षेत्र के संयोजक चित्रा सरवारा और उत्तर क्षेत्र सिचव योगेश्वर शर्मा शामिल होंगे।

बेफिजूल की बातें कर रहा विपक्ष: शिक्षा मंत्री

स्कूलों को बंद किए जाने पर सूबे के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुज्जर ने कहा कि विपक्षी पार्टियां बेफिजूल की बातें कर रही हैं। सरकार द्वारा यह फैसला स्कूलों की व्यवस्था को ठीक करने के लिए लिया गया है। स्कूल खुले रखने की बजाए, स्कूलों की व्यवस्था सही करना ज्यादा महत्वपूर्ण है। वहीं स्कूलों के बंद होने के विरोध में कांग्रेस हस्ताक्षर अभियान शुरू कर चुकी है।

 

खबरें और भी हैं…

.

रेलवे में नौकरी का झांसा दे 9 लाख हड़पे: फतेहबाद के युवक को डाक से भेजा फर्जी जॉइनिंग लेटर; केस दर्ज
.

Advertisement