सांसद रमेश कौशिक ने किया गांव सिंघाना में विकास परियोजनाओं का उद्घाटन

128
Advertisement

कहा – जींद जिला को उत्कृष्ट जिला बनाकर लेंगे दम

 

एस• के• मित्तल          

सफीदों, सोनीपत लोकसभा क्षेत्र के सांसद रमेश कौशिक शनिवार को उपमंडल के गांव सिंघाना पहुंचे और अनेक विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया। इस मौके पर उनके साथ सफीदों के एसडीएम आईएएस डा. आनंद कुमार शर्मा विशेष रूप से मौजूद थे। गांव में पहुंचने पर ग्रामीणों ने सांसद का फूलमालाएं व पगडिय़ां पहनाकर जोरदार अभिनंदन किया। सांसद ने गांव सिंघाना में करीब 25 लाख रूपए की लागत से बनी स्वर्गधाम के रास्ते व चारदिवारी तथा राजपूत चौपाल का उद्घाटन किया। अपने संबोधन में सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि सिंघाना गांव से उनका व्यक्तिगत लगाव है क्योंकि यहां के लोगों ने उन्हें सबसे अधिक मतों से जीताकर लोकसभा में भेजा था। अब वे यहां पर विकास कार्य करवाकर अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बहुत लंबे अर्से से जींद जिला के साथ विकास के मामले में सदा ही अन्याय होता हुआ आया है। अनेक सरकारों ने जींद जिला के साथ ऐसा व्यवहार किया कि मानो यह पाकिस्तान का कोई हिस्सा हो। अनेक राजनीतिक दलों व नेताओं ने विकास कार्यों में जींद जिला को उपेक्षित रखकर विकास को अपने-अपने गृह क्षेत्रों तक सीमित कर दिया लेकिन भाजपा सरकार ने उनसे इतर इस जिले की तकदीर और तस्वीर को बदला है।

 

यह भी देखें:-
धर्मगढ़ बोहली रोड पर चला पीला पंजा… सर्विस स्टेशन पर की कार्रवाई… देखिए लाइव…

धर्मगढ़ बोहली रोड पर चला पीला पंजा… सर्विस स्टेशन पर की कार्रवाई… देखिए लाइव…

 

उन्होंने कहा कि जब से वे सांसद बने हैं तब से उनमें यहां के विकास कार्य करवाने की एक विशेष तडफ़ है और वे जींद जिला को उत्कृष्ट जिला बनाकर दम लेंगे। रमेश कौशिक ने कहा कि आजादी के 70 सालों में जींद जिला में इतने हाईवे नहीं बने जितने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार में बने हैं। मौजूदा कार्यकाल में जींद जिला को रोहतक-जुलाना-जींद, जींद-असंध-करनाल, जींद-सफीदों-पानीपत, जींद-सोनीपत, दिल्ली-कटरा हाईवे समेत 11 बड़े हाईवे से जोड़ा जा रहा है, जोकि पूरे देश में अपने आप में एक रिकॉर्ड है। इसके अलावा जींद बाईपास पर 1000 करोड़ की धनराशि खर्च की गई है। जल्द ही जींद में मेडिकल कॉलेज बनने जा रहा है। हाईवे के निर्माण में जिन किसानों की जमीनें अधिकृत की गई हैं उन्हे 60 लाख रूपए प्रति एकड़ मुआवजा दिया गया है। जुलाना विधानसभा का जिक्र करते हुए सांसद ने बताया कि कभी जुलाना एक गांव के समान होता था लेकिन आज वहां पर स्टेडियम, मिनी सचिवालय, ऑडिटोरियम, रेस्ट हाउस व पार्कों का निर्माण हो चुका है। सफीदों में रेलवे लाइन अंग्रेजों के जमाने में बिछी थी लेकिन तब से लेकर आजतक इसी प्रकार चली आ रही थी। अब जींद-सफीदों-पानीपत रेलमार्ग विद्युतीकरण कर दिया गया है। इसके अलावा इस रेलमार्ग पर अतिरिक्त ट्रेनें भी चलाई जाएंगी ताकि लोगों को यातायात की सुगमता से उपलब्ध हो सके। वहीं सफीदों में औद्योगिक जोन भी बनवाया जाएगा। सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि जब ये सारी परियोजनाएं पूरी हो जाएंगी उस दिन जींद जिले का नक्शा पूरी तरह से बदल जाएगा। उनका मकसद केवल भाषणबाजी करना नहीं बल्कि धरातल पर विकास करना है। उन्होंने जो जनता के बीच कहा था उसे करके दिखाया है। इसके अलावा जो विकास कार्य शेष रह गए हैं उन्हे भी अमलीजामा पहनाया जाएगा। इस मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष राजकुमार मोर, पूर्व जिलाध्यक्ष अमरपाल राणा, पूर्व विधायक कलीराम पटवारी, पूर्व सरपंच सुरेंद्र राणा, पूर्व चेयरमैन राकेश कुमार, बीडीपीओ सोमबीर कादियान, नायब तहसीलदार रामपाल शर्मा व अनेक प्रशानिक अधिकारीगण मौजूद थे। 

Advertisement