ससुराल से परेशान महिला बच्चे साथ पहुंची नहर पर: किया आत्महत्या का प्रयास, राहगीरों ने पकड़ा, सास ससुर पर लगाए गंभीर आरोप

36
Quiz banner
Advertisement

बचपन में मां चल बसी, फिर कुछ साल बाद सर से उठ गया पिता का साया, पिता के जाने के बाद दादा ने की परवरिश, बड़ी हुई तो दादा को लगा बचपन से नहीं मिला माता पिता का प्यार तो भरे पूरे परिवार में करा दी शादी। शादी के बाद लगा था कि पूरे परिवार का प्यार मिलेगा। लेकिन जब शादी के बाद प्यार की जगह दुत्कार मिली तो सोचा, कुछ दिन में सब हो जाएगा ठीक। शादी के कई साल बीत जाने के बाद जब कुछ ठीक नहीं हुआ तो सोचा कर लूं अपने और अपने बच्चे का जीवन समाप्त। अब जब अपने साथ अपने बच्चे को लेकर मरने निकली तो अब लोगों ने मरने भी नहीं दिया। यह कहानी पूजा नाम की महिला की है जो कैथल जिले के गांव साकरा की रहने वाली है और निसिंग में शादी हुई है।

सैमसंग जेट 90 कॉर्डलेस स्टिक वैक्यूम क्लीनर समीक्षा: भारतीय परिवारों के लिए कॉम्पैक्ट और व्यावहारिक

बुधवार देर शाम को कैथल रोड़ स्थित नहर में अपने तीन साल के बच्चें के साथ आत्महत्या करने पहुंची पूजा ने अपनी ये दास्ता लोगों व पुलिस को सुनाई। महिला ने कहा कि मायके में उसका ना बाप, ना मां, ना भाई और न ही बहन। दादा थे वो भी उसकी शादी के बाद चल बसे। जिससे शादी हुई वह हर समय नशे में रहता है। सास ससुरल मारपीट करते है ताने देते है। इन सब से दुखी आकर अपने तीन साल के बच्चें के साथ आत्महत्या करने यहां नहर पहुंची तो लोगों ने वो नहीं करने दी।

जानकारी देते मौके पर मौजूद लोग।

जानकारी देते मौके पर मौजूद लोग।

ससुराल से परेशान पूजा पहुंची थी नहर पर आत्महत्या करने

ससुराल में पूजा के साथ हो रहे गृह क्लेश के कारण वह बहुत दुखी है। पूजा ने बाताया कि वह दिहाड़ी मजदूरी करके अपने बच्चो का पालन पोषण कर रही है। उसका पति रामफल शराब पीता है काम धंधा कुछ करता नहीं। उसकी मजदूरी से जो पैसे आते है वह कुछ बच्चों की दवा पर तो कुछ घर के खर्च निकल जाते है। महिला ने आरोप लगाया कि इतने खर्च के बाद भी उसकी सास व ससुर पैसे मांगते है। अगर पैसें न दे तो उसके साथ मारपीट करते है। इन सब से तंग आकर वह अपने बच्चे के साथ आत्महत्या करना चाहती थी।

महेंद्रगढ़ मे शराब ठेके के विरोध में धरना: रामविहार कॉलोनी वासियों और पूर्व MLA के बीच खींचतान; राव बहादुर का VIDEO वायरल

बच्चे व महिला को नहर में कूदने से बचाने वाली महिला।

बच्चे व महिला को नहर में कूदने से बचाने वाली महिला।

पहले बच्चें को फेंक कर फिर अपने आप नहर में कुदने का था प्लान

बुधवार शाम को गृह क्लेश से परेशान आकर नहर में कूदकर आत्महत्या करने के लिए अपने बच्चे को साथ लेकर सीधे कैथल रोड़ स्थित नहर पर पहुंचती। उधर से एक महिला सड़क पर पैदाल चलते हुए आ रही थी उसने महिला के इरादे भांप तत्काल महिला के पीछे चल पड़ी। जैसे ही महिला बच्चे को नहर में फेंकने का प्रयास करने करने लगी तो उसने बच्चे को पकड़ लिया और महिला को दूसरी तरफ धक्का दे दिया। तबतक काफी लोग एकत्रित हो गए। इसकी सूचना पुलिस को दी गई।

जिला परिषद के सीईओ ने जल शक्ति अभियान का निर्धारित लक्ष्य पूरा करने के दिए निर्देश कहा- अधिकारी अभियान के तहत कार्यों को प्रतिदिन पोर्टल पर करें अपलोड

जानकारी देते जांच अधिकारी संदीप।

जानकारी देते जांच अधिकारी संदीप।

मौके पर पहुंची पुलिस

सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और महिला व उसके बच्चे को अपने साथ लेकर गई। वहीं पुलिस ने महिला के ससुराल के लोगों को सूचित किया गया। पुलिस का कहना है कि महिला की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू की जाएगी।

वर्जन

रामनगर थाना से मौके पर पहुंचे जांच अधिकारी संदीप बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि एक महिला थी जिसने नहर में कूदने की कोशिश की बच्चे के साथ एक महिला ने पकड़ लिया और कुछ लोग थे उन्होंने भी उसको पकड़ लिया वह सुरक्षित है। महिला ने अपने ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाए है। पुलिस महिला की शिकायत के आधार पर अगामी कार्रवाई शुरू कर देगी।

 

खबरें और भी हैं…

.ITI काउंसलिंग आज 9 बजे से शुरू: 26 सितंबर तक चलेगी एडमिशन प्रक्रिया, 3952 सीटों पर आए 10165 आवेदन, मोबाईल पर मिलेगा मैसेज

.

Advertisement