समाजसेविका गीतांजली कंसल दुर्गा शक्ति अवार्ड से हुई सम्मानित

113
Advertisement

महिला आयोग की अध्यक्षा रेणू भाटिया ने दिया यह सम्मान

एस• के• मित्तल
सफीदों, महिला सशक्तिकरण व समाजसेवा में सफीदों ही नहीं बल्कि हरियाणा भर में बड़ा नाम बन चुकी दिव्यांग गीतांजली कंसल एसडी कॉलेज पानीपत में दादा लख्मी चंद कला विकास मंच द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित किए गए कार्यक्रम में दुर्गा शक्ति अवार्ड से नवाजा गया है। इस कार्यक्रम में मुख्यातिथि महिला आयोग की अध्यक्ष रेणू भाटिया रही। इस कार्यक्रम में गीतांजली कंसल के अलावा 60 अन्य महिलाओं को भी सम्मानित किया गया है। जींद जिला से गीतांजलि कंसल अकेली ऐसी युवती रही जिन्हें यह सम्मान मिला है। गीतांजलि कंसल ने बताया कि यह सम्मान उन्हें दिया गया है जिन्होंने विपरित परिस्थितियों में अपने आपको समाज में स्थापित किया। इस सम्मान को पाकर उन्हें जीवन में आगे और भी तन्यमता से कार्य करने की प्रेरणा मिली है। गीतांजलि कहती हैं कि शारीरिक कमजोरी से इंसान उभर सकता है लेकिन विचारों की कमजोरी मनुष्य को कभी भी आगे बढऩे नहीं देती हैं। वैचारिक रूप से कमजोर व्यक्ति ही सही मायनों में निशक्त होता है। इसलिए हमेशा अपनी कमजोरियों को दूर कर आगे बढ़ते रहना चाहिए। संस्था के संस्थापक वीरेंद्र शर्मा, हरिदास शास्त्री, महिला प्रधान मोना शर्मा ने बताया कि संस्था द्वारा प्रदेशभर से समाजसेवा में जुटी उन महिलाओं को चुना गया है जिन्होंने विषम परिस्थितियों के बावजूद अपने लक्ष्य को हासिल किया।
यह भी देखें:-

बीड़ी पीने वालो हो जाओ सावधान… सार्वजनिक स्थान पर पी बिडी तो होगा चालान … देखिए सफीदों के बस स्टैंड से लाइव…

बीड़ी पीने वालो हो जाओ सावधान… सार्वजनिक स्थान पर पी बिडी तो होगा चालान … देखिए सफीदों के बस स्टैंड से लाइव…

गीतांजलि कंसल न केवल सैंकड़ों लड़कियों को स्वावलंबी बनाने तथा उन्हें स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने को भी कार्य कर रही हैं। महिलाओं के उत्थान के लिए उन्होंने खुद की वुमेन इरा फाउंडेशन संस्था बनाई है। संस्था अब तक चार नि:शुल्क सिलाई सेंटर खोलकर महिलाओं, लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास कर रही है। वहीं उनके द्वारा सिखाई गई सैंकड़ों लड़कियां विवाह सहित अन्य समारोह में मेहंदी लगाने का कार्य कर स्वावलंबी बनी हुई हैं। ऐसी युवतियां समाज के लिए प्रेरणा स्त्रोत हैं।
YouTube पर यह भी देखें:-

Advertisement