सडक़ सुरक्षा को लेकर उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने ली अधिकारियों की बैठक कहा – सडक़ सुरक्षा नियमों की पालना करवाएं सुनिश्चित / आमजन को यातायात नियमों के बारे में करें जागरूक

98
Advertisement

एस• के• मित्तल
जींद, उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि अधिकारी ज्यादा सडक़ दुर्घटना वाले क्षेत्रों को ब्लैक स्पोट चिन्हित कर उनको दुरूस्त किया जाए ताकि दूर्घटनाओं में कमी लाई जाए और जानमाल की सुरक्षा की जा सके। उन्होंने नैशनल हाई-वे पर गढी-दातासिंहवाला गांव के पास अंडर ब्रीज बनाने को लेकर भी अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर में यातायात को दुरूस्त करने के लिए टो-वैन का प्रबंध करें। ताकि सडक पर अवैध रूप से खडे वाहनों पर अंकुश लगाया जा सके और शहर की यातायात व्यवस्था को सूचारू रूप चलने के लिए जाम जैसी व्यवस्था पर अंकु श लगाया जा सके।

SEE MORE:

सिटी ब्यूटीफुल को लेकर अब चंडीगढ़ नगर निगम में भिड़ी आप-बीजेपी, सदन में आई हाथापाई की नौबत

वे शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में सडक़ सुरक्षा समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में एडीसी साहिल गुप्ता, सफीदों के एसडीएम आंनद कुमार शर्मा आईएएस, नरवाना के एसडीएम सुरेन्द्र कुमार, उचाना के एसडीएम राजेश कोथ, आरटीए प्रतिक हुड्डा, शुगर मिल के एमडी प्रवीण कुमार, डीएसपी धर्मबीर सिंह, मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी साकेत शुभ सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।


उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने कहा कि सडक़ों पर मार्किंग की जाए और सांकेतिक बोर्ड भी लगाना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही सडक़ के दोनों ओर लगे पेड़ों की छंटाई करवाई जाए। इसके अलावा ब्लैक स्पॉट के संबंध में गंभीरता से कार्य करें और दुर्घटनाओं के कारण जानकर उन्हें दूर करवाएं और मार्किंग व लाइटिंग के साथ-साथ पेड़ों पर भी पेंट करवाया जाए।

उन्होंने नगर परिषद को निर्देश दिए कि शहर में संभावित दुर्घटना प्वाइंटों पर लगे फ्लेक्स को तुरंत प्रभाव से हटाया जाए और सांकेतिक बोर्ड लगाए जाएं व अवैध पार्किंग करने वालों के चालान किए जाए। इसके अलावा विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों के माध्यम से आमजन को यातायात नियमों की पालना के बारे में अवगत करवाएं। नेशनल हाईवे पर अवैध कटों का सर्वे करवा कर उन्हें बंद करवाएं और हाईवे पर बंद पड़ी लाइटों का ठीक करवाएं। उन्होंने निर्देश दिए कि संबंधित विभाग जिला में सडक़ों के बीच में बने गड्ढों को जल्द से जल्द भरवाए ताकि सडक़ पर पानी का जमाव न हो।

इसके साथ ही सडक़ के साथ लगते नालों की सफाई करवाई जाए ताकि सडक़ पर पानी का बहाव न हो। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग के अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोई भी वाहन चालक वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग न करें। चौपहिया वाहन चालक सीट बेल्ट जरूर लगाएं तथा दुपहिया वाहन चालक हेलमेट का प्रयोग करें। इसके अलावा संबंधित विभाग सडक़ों व फुटपाथ से पेड़ों की अवरोधक टहनियां हटाना, हरियाणा पुलिस द्वारा ट्रैफिक नियमों की सख्त चेकिंग की जाए व रोड़ संकेतों, कैट आई, जेब्रा क्रॉसिंग व रिफ्लेक्टर लगाए जाएंं। पैदल यात्रियों के लिए सडक़ के दोनों किनारों पर मार्किंग के साथ-साथ फुटपाथों की मरम्मत करवाने के निर्देश दिए।

Advertisement