शराब कारोबारी गौरव हत्याकांड का मास्टरमाईंड दीपेंद्र उर्फ टीना गिरफ्तार

107
Advertisement

 

पुलिस ने कोर्ट में पेश करके लिया 3 दिन के रिमांड पर

सफीदों के खानसर चौंक पर हुई थी गौरव अग्रवाल की हत्या

 

एस• के• मित्तल 

सफीदों, विगत 13 जनवरी को नगर के खानसर चौंक स्थित शराब के ठेके पर बैठे शराब ठेकेदार गौरव अग्रवाल की हत्या करने के मामले में पुलिस ने इस हत्याकांड के मास्टरमाईंड दीपेंद्र उर्फ टीना निवासी साहनपुर को पकड़ लिया है। पुलिस ने आरोपी दीपेंद्र राठी को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 3 दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है।

MA राजनीति विज्ञान की प्रवेश परीक्षा कल: दोपहर 3 बजे से सवा 4 बजे तक होगा आयोजन, एडमिट कार्ड डाउनलोट करें विद्यार्थी

सूत्रों के मुताबिक दीपेंद्र की गिरफ्तारी महिपालपुर (दिल्ली) से हुई बताई गई है। यह सारा घटनाक्रम को किसी रंजिश व शराब व्यापार से जोड़कर देखा जा रहा था। गौरतलब है कि 13 जनवरी को सफीदों के खानसर चौंक पर स्थित शराब ठेके पर ठेकेदार गौरव अग्रवाल बाहर बैठा हुआ फोन पर किसी से बात कर रहा था। इसी बीच दो अज्ञात युवक मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए और गौरव अग्रवाल पर कई राऊंड फायर करके मौके से फरार हो गए।

नेशनल हाईवे पर ट्रक व ट्रैक्टर ट्राली की टक्कर: बाल-बाल बचे ट्रैक्टर सवार, हाईवे पर लगा लंबा जाम, ट्रक चालक फरार

इस फायरिंग में गौरव अग्रवाल बुरी तरह से घायल हो गया था और उसे अस्पताल ले जाया गया लेकिन वहां पर डाक्टरों ने उसे मृत्त घोषित कर दिया था। हालांकि सीसीटीवी कैमरों में पूरा घटनाक्रम कैद हो गया था। जिस पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करके जांच आरंभ की थी। जांच में सामने आया था कि इस हत्याकांड का मास्टर माईंड दीपेंद्र राठी उर्फ टीना व उसके साथी हैं। तब से आरोपी दीपेंद्र राठी उर्फ टीना फरार चल रहा था। इसे पकडऩे के लिए पुलिस काफी मशक्कत कर रही थी लेकिन वह हाथ नहीं आ रहा था। आखिरकार करीब 8 महीने के बाद दीपेंद्र राठी उर्फ टीना पुलिस की पकड़ में आ गया।

शिकंजे में अपराधी: गर्ल फ्रेंड का बर्थ डे मनाने के लिए हथियार के बल पर कारोबारी से 1.90 लाख रुपए लूटे थे, गैंग के पांच बदमाश गिरफ्तार

पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश किया जहां से उसे 3 दिन के रिमांड पर भेजा गया है। रिमांड अवधि के दौरान पुलिस उससे हत्या से संबंधित जानकारी हासिल करेगी। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने शुरू में दो आरोपियों को मुठभेड़ के दौरान पकड़ लिया था।

Advertisement