विकास कार्यों में घालमेल की सीएम विंडों में की शिकायत

106
Advertisement

 

एस• के• मित्तल
सफीदों, उपमंडल के गांव करसिंधू में हुए विकास कार्यों में कथित घालमेल की शिकायत मुख्यमंत्री मनोहर लाल व सीएम विंडों में की गई है। इस शिकायत में विकास कार्यों की उच्च स्तरीय अधिकारियों की कमेटी से करवाए जाने की मांग की गई है। शिकायत गांव करसिंधू निवासी राममेहर ने कहा कि उसने आरटीआई के तहत गांव में करवाए गए विकास कार्यों तथा आमदनी व खर्च की सूचना मांगी थी लेकिन उसे सूचना प्रदान नहीं की गई।

SEE MORE:

कॉर्डिनेशन कमेटी की बैठक में होगी मीडिया समन्वय पर चर्चा: महाबीर मित्तल

इसके अलावा उसने सीएम विंडों में भी शिकायतें दी लेकिन उसकी शिकायत को अंदरखाने निपटाकर फाईल कर दिया जाता है। राममेहर का कहना है कि गांव में बनाए गए वैलकम गेट, बिछाए गए सिमेंटिंड बैंचों, लाईटे लगाने, वाटर कूलर लगाने, सरकारी स्कूल में कमरे बनवाने व मिट्टी के भरत करवाने में, शमशान घाट को बनवाने, गलियां, नालियां व पुलिया बनवाने, नलके व समर्सिबल पंप लगवाने, पुराने तालाब की चारदीवारी बनाने में मोटा गबन किया गया है।

राममेहर ने सरकार से मांग की है कि गांव के विकास कार्यों में हुए घोटाले की जांच उच्च स्तरीय कमेटी से करवाई जाए ताकि दूध का दूध व पानी का पानी हो सके। राममेहर का कहना है कि वह इन विकास कार्यों के घोटाले की जांच की मांग शपथ पत्र देकर कर चुका है तथा कई अधिकारियों से मिल चुका हैं लेकिन अधिकारियों के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। उसकी शिकायतें अनेक जगहों से घूम-धूमकर वापिस बीडीपीओ कार्यालय सफीदों में आ जाती है और उनको वहीं पर दबा दिया जाता है।

फोटो कैप्शन 4.: शिकायत की प्रति दिखाते हुए गांव करसिंधू निवासी राममेहर।

Advertisement