लूट करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार: आरोपियों के खिलाफ विभिन्न जिलों में एक दर्जन से ज्यादा केस दर्ज, कई अवैध हथियार भी बरामद

47
Quiz banner
Advertisement

 

 

हरियाणा के जिले करनाल की डिटेक्टिव स्टाफ की टीम ने हथियार के बल राहगीरों से लूट करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के कब्जे से एक अवैध पिस्तौल, एक जिंदा कारतूस, एक लोहे की सरिया व एक टॉर्च की गई बरामद की गई है। तीनों आरोपियों को आज अदालत में पेश किया गया है। जहां से आरोपियों को अदालत ने न्यायिक हिरासत में जिला जेल भेज दिया।

लूट करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार: आरोपियों के खिलाफ विभिन्न जिलों में एक दर्जन से ज्यादा केस दर्ज, कई अवैध हथियार भी बरामद

 

बसंत विहार की तरफ से किया आरोपियों को गिरफ्तार

डिटेक्टिव स्टाफ के इंचार्ज अनिल कुमार के ने बताया कि सोमवार देर रात को पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ लड़के इंद्री रोड पर बसंत विहार की तरफ आने वाले रास्ते पर बुड्ढा खेड़ा माइनर पुलिया के पास आने जाने वाले राहगीरों को हथियार के बल पर लूटने की कोशिश कर रहे हैं। सूचना के आधार पर टीम द्वारा आरोपियों को पकड़ने के लिए योजना बनाई गई और मौके से तीन आरोपियों को काबू किया गया।जिन्होंने पूछताछ में अपने नाम सौरभ उर्फ सोनू वासी गांव ढराना, सुमित उर्फ दादा वासी गांव भंडेरी सोनीपत व शक्ति वासी गांव रसूलपुर उत्तर प्रदेश बताया। आरोपियों के कब्जे से एक अवैध पिस्टल 315 बोर, एक जिंदा कारतूस, एक लोहे की सरिया व एक टॉर्च बरामद की गई। इस संबंध में आरोपियों के खिलाफ थाना सदर करनाल में विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

BJP शासित गुजरात में जजपा की एंट्री: अहमदाबाद में हेडक्वार्टर खोल संगठन मजबूती में जुटे; अजय चौटाला और डिप्टी CM दुष्यंत का दौरा जल्द

आरोपियों पर एक दर्जन से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज

​​​​​​जानकारी देते हुए ASI देवेंद्र सिंह ने बताया कि जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी आदतन अपराधी हैं। आरोपी नशा करने व अय्याशी करने के लिए गंभीर अपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं। आरोपियों के खिलाफ हरियाणा के जिले करनाल, गुरुग्राम, जींद, सोनीपत, रोहतक व झज्जर में हत्या करने, हत्या का प्रयास करने, लूटपाट करने, लड़ाई झगड़ा करने, आगजनी करने, चोरी करने व स्नैचिंग करने के एक दर्जन से भी ज्यादा मामले दर्ज हैं। इनमें से ज्यादातर मामलों में आरोपी गिरफ्तार हो चुके थे और कई बार जेल में सजा काट चुके थे। आरोपी फिलहाल जमानत पर बाहर चल रहे थे।

हत्या तक की वारदात को दिया हुआ था आरोपी ने अंजाम

​​​​​​​पुलिस जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी सौरव उर्फ सोनू वर्ष 2015 में सुंढा नामक गैंग में शामिल हो गया था और गैंग के कहने पर लोगों के मर्डर करने की वारदातों को अंजाम देने लगा था। आरोपी के खिलाफ वर्ष 2015 में हत्या का एक मामला झज्जर में, दूसरा मामला जिला गुरुग्राम में, तीसरा मामला भी गुरुग्राम में व वर्ष 2017 में चौथा मामला जिला सोनीपत में हत्या करने के दर्ज हैं। इन मामलों में आरोपी गिरफ्तार हो चुका था और फिलहाल जमानत पर बाहर चल रहा था।

आरोपी सौरभ ने एक आरोपी सुमित व अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर हथियारों के बल पर हाल ही में कुछ दिन पहले गांव सर्फाबाद सफीदों जिला जींद में एक शराब ठेके से लूटपाट व लूटपाट करके आगजनी की वारदात को अंजाम दिया था। इस मामले में दोनों आरोपी फरार चल रहे थे। आरोपियों को आज दोपहर बाद अदालत में पेश किया गया। जहां से अदालत ने आरोपी को न्यायिक हिरासत में जिला जेल भेज दिया है।

 

खबरें और भी हैं…

.
जींद में स्कॉर्पियो पेड़ से टकराई: एक की मौत, 2 गंभीर घायल; सफीदों-पानीपत रोड पर गाड़ी के अनियंत्रित होने से हादसा

.

Advertisement