लंपी स्कीन वायरस के फैलाव को रोकने के लिए प्रशासन अलर्ट

96
Advertisement
एस• के • मित्तल 
सफीदों, सफीदों एसडीएम सत्यवान मान ने बताया कि पशुओं में लंपी स्कीन वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए हरियाणा सरकार व प्रशासन अलर्ट मोड में काम कर रहे हैं। सरकार की ओर से लंपीस्कीन वायरस के फैलाव को रोकने के लिए पशुओं का टीकाकरण किया जा रहा है। एसडीएम सत्यवान मान ने बताया कि लंपी स्कीन वायरस से पशुओं की सुरक्षा के लिए पशु टीकाकरण अभियान बेहद जरूरी है,
ताकि पशुओं को लंपी स्कीन वायरस के प्रकोप से बचाया जा सके। उन्होंने बताया कि लंपी स्कीन मक्खी और मच्छर से फैलने वाला वायरस है, ऐसे में सभी संबंधित विभाग परस्पर समन्वय से गांव व शहरों में स्वच्छता अभियान चलाकर साफ-सफाई करवाना सुनिश्चित करें। लंपीस्कीन वायरस से संक्रमित पशु की मृत्यु होने पर उसकी अंतिम क्रिया पूरे मेडिकल प्रोटोकॉल के साथ कराई जाए। उन्होंने बताया कि एहतियात के तौर पर मृत पशुओं का निस्तारण 2 से 5 मीटर गहरा गड्ढा खोदकर दफनाना चाहिए।
मृत पशु को खुले में छोडऩे से अन्य स्वस्थ पशुओं में संक्रमण फैल सकता है। इसलिए स्वस्थ पशुओं को बीमार पशुओं से अलग रखें तथा रोग के लक्षण दिखाई देने पर अपने नजदीकी पशु चिकित्सक से संपर्क करें। एसडीएम ने बताया कि इस बीमारी से बचने के लिए पशुओं को वैक्सीन लगवानी चाहिए। पशुओं के स्थान को सूखा व साफ सुथरा रखें। नियमित रूप से मक्खी व मच्छर रोधी दवाओं का प्रयोग करें। बीमार पशुओं के घावों, की नियमित रूप से लाल दवाई व फिटकरी से सफाई करें, बीमार पशु के उत्पादित दूध का सेवन अच्छी तरह से उबालकर करें, बीमार पशु के संपर्क में आने पर अपने हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोएं
Advertisement