रोहतक आएंगे मेघालय के राज्यपाल: गवर्नर सत्यपाल मलिक उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले शिक्षाविदों को करेंगे पुरस्कृत, शिक्षा सम्मान समारोह में होंगे मुख्यातिथि

20
Quiz banner
Advertisement

 

हरियाणा के रोहतक में शुक्रवार को मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। DC यशपाल ने बताया कि मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक पहले सांपला स्थित श्री शिव शक्ति बाबा कालीदास धाम में पूजा अर्चना करेंगे। इसके उपरांत रोहतक के नांदल भवन में शिक्षा सम्मान समारोह 2022 में बतौर मुख्यातिथि भाग लेंगे। राज्यपाल के दौरा कार्यक्रम के दौरान SP सुरक्षा प्रबंधों के ओवर ऑल प्रभारी होंगे।

एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं के लिए ट्विटर में एक नया व्हाट्सएप बटन है: यह क्या है और यह कैसे काम करता है

सृष्टि परिवार द्वारा नांदल भवन में शिक्षा सम्मान समारोह का आयोजन किया जा रहा है। जिसके मुख्य अतिथि मेघायल के राज्यपाल सत्यपाल मलिक होंगे। समारोह में शिक्षा में नैतिक गुणों का समावेश विषय पर एक सेमिनार आयोजित होगी। जिसमें वरिष्ठ शिक्षाविद् नैतिक गुणों को शिक्षा में उतारने के लिए गहन विचार-विमर्श करेंगे तथा राज्यपाल सत्यपाल मलिक के समक्ष सीबीएसई पाठ्यक्रम में नैतिक शिक्षा जोड़ने की मांग को उठाएंगे। राज्यपाल सत्यपाल मलिक शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले शिक्षाविदों को पुरस्कृत करेंगे।

पुलिस द्वारा तिलियार रेस्टोरेंट पर राज्यपाल को गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया जाएगा। राज्यपाल के रोहतक दौरा कार्यक्रम के दौरान ADC महेंद्रपाल ऑवर ऑल इंचार्ज व लायजनिंग अधिकारी होंगे। जिला राजस्व अधिकारी चन्द्र मोहन को नांदल भवन, सांपला के तहसीलदार गुलाब सिंह को सांपला स्थित श्री शिव शक्ति बाबा कालीदास धाम, रोहतक के नायब तहसीलदार बंसीलाल को तिलियार रेस्टोरेंट तथा रोहतक के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी राजपाल चहल को राज्यपाल के काफिले के साथ ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है।

बिजली चोरी पकड़ने गई टीम पर हमला: हांसी के उमरा में ग्रामीणों ने JE को बुरी तरह से पीटा; कर्मी यूनियन की धमकी

राज्यपाल के दौरे के दौरान सिविल सर्जन द्वारा आवश्यक चिकित्सा प्रबंधों के साथ-साथ एम्बुलेंस सेवा तैनात की जाएगी। एम्बुलेंस में जीवन रक्षक उपकरण, डॉक्टरों की टीम व पैरामेडिकल स्टाफ भी नियुक्त किया जाएगा। राज्यपाल के दौरा कार्यक्रम के दौरान PGIMS डेजिगनेटिड अस्पताल होगा तथा PGIMS निदेशक द्वारा सिविल सर्जन से सलाह कर सभी आवश्यक चिकित्सा प्रबंध किए जाएंगे। नगर निगम आयुक्त द्वारा अग्निशमन उपकरणों से युक्त वाहन तथा फायर मैन उपलब्ध करवाए जाएंगे।

 

खबरें और भी हैं…

.
पानीपत इंडस्ट्री पर बड़ा संकट: 30 सितंबर तक कोयला चलित उद्याोग बंद करने के निर्देश; 50% उघोग होगा ठप

.

Advertisement