रेवाड़ी के बिसोहा में स्कूल पर लगाया ताला: 18 दिन में दूसरी बार ग्रामीणों का धरना; BEO के आश्वासन पर भी नहीं पहुंचे टीचर्स

18
Quiz banner
Advertisement

हरियाणा रेवाड़ी जिले के गांव बिसोहा स्थित सरकारी स्कूल पर बुधवार को एक बार फिर स्कूली बच्चों और ग्रामीणों ने ताला जड़ दिया। ग्रामीण स्कूल के गेट पर ही धरने पर बैठे हुए हैं। इससे पहले 20 अगस्त को भी ग्रामीणों ने इसी प्रकार रोष व्यक्त किया था, लेकिन बावजूद इसके स्कूल में टीचर्स की नियुक्ति नहीं हुई।

रेवाड़ी के बिसोहा में स्कूल पर लगाया ताला: 18 दिन में दूसरी बार ग्रामीणों का धरना; BEO के आश्वासन पर भी नहीं पहुंचे टीचर्स

बता दें कि गांव बिसोहा के सरकारी स्कूल में 150 से ज्यादा स्टूडेंट्स हैं। ट्रांसफर ड्राइव पॉलिसी से पहले स्कूल में अलग-अलग विषय के 13 टीचर्स थे, लेकिन 15 अगस्त से शुरू हुई ट्रांसफर ड्राइव पॉलिसी के बाद अलग-अलग विषय के 10 टीचर्स ट्रांसफर करके दूसरे स्कूलों में भेज दिए, लेकिन उनके बदले किसी दूसरे अध्यापक की नियुक्ति नहीं हुई।

फिलहाल स्कूल में सिर्फ 3 ही अध्यापक हैं। 20 अगस्त को जिन विषयों के टीचर्स का तबादला किया गया, उनके बदले दूसरे टीचर्स की नियुक्ति न होने को लेकर ग्रामीणों ने स्कूल के गेट पर ताला लगाकर बाहर धरना दिया था। 2 घंटे तक चले धरना प्रदर्शन के बाद ग्रामीणों के बीच ब्लॉक शिक्षा अधिकारी पहुंचे थे।

उन्होंने एक सप्ताह के अंदर स्कूल में पर्याप्त टीचर्स की नियुक्ति का आश्वासन दिया था, लेकिन 18 दिन बाद भी जब अनुपात के हिसाब से टीचर्स की नियुक्ति नहीं हुई तो बुधवार को ग्रामीणों ने एक बार फिर स्कूल के गेट पर ताला जड़ दिया। ग्रामीणों का कहना है कि स्कूल में बच्चों की संख्या काफी ज्यादा है। सरकार ने बच्चों का भविष्य खराब करने की योजना बनाई है।

घोटालों की सिटी बना मुख्यमंत्री का शहर: फर्जी 966 BPL कार्ड से लाखों का गोलमाल, 30 डिपो धारकों पर गीर सकती है गाज, अधिकारी जांच तक सीमित

स्कूल से कई महत्वपूर्ण विषयों के टीचर्स हटा दिए। यह बच्चों के साथ अन्याय है। पहली बार जब विरोध किया गया तो एक सप्ताह में नए अध्यापक लगाने की बात की थी, लेकिन उसके बाद शिक्षा विभाग के अधिकारी गहरी नींद में सो गए। ग्रामीणों ने चेतावनी दी कि अगर स्कूल में जल्द ही नए टीचर्स की नियुक्ति नहीं हुई तो वे बड़ा आंदोलन करेंगे।

 

खबरें और भी हैं…

.
घोटालों की सिटी बना मुख्यमंत्री का शहर: फर्जी 966 BPL कार्ड से लाखों का गोलमाल, 30 डिपो धारकों पर गीर सकती है गाज, अधिकारी जांच तक सीमित

.

Advertisement