मेवात में मुख्यमंत्री उड़नदस्ता ने मचाया हड़कम्प: पंचायती राज विभाग कार्यालय में किया औचक निरीक्षण, नदारद मिले अधिकारी व कर्मचारी

14
Quiz banner
Advertisement

 

 

  • पुन्हाना उपमंडल अभियंता पंचायत राज कार्यालय में भी रेड की कई

पंचायती राज विभाग के अधिकारियों की लापरवाही की शिकायतों पर मुख्यमंत्री उड़नदस्ता रेवाड़ी की टीम ने नूंह पंचायती राज विभाग के कार्यालय में औचक निरीक्षण किया। इसके बाद पुन्हाना उपमंडल अभियंता पंचायत राज कार्यालय में भी रेड की कई। इस दौरान कई अधिकारी व कर्मचारी नदारज मिले।

आयरलैंड में आज छाएगा करनाल का दिव्यांग मनजीत: अब तक 20 नेशनल मेडल पर कर चुका कब्जा, आज तैराक की 32 KM रिले रेस में एशियन रिकॉर्ड बनाने के लिए उतरेगा समुद्र में

टीम ने औचक निरीक्षण के दौरान नूंह कार्यालय में हाजिरी रजिस्टर के अनुसार शोएब ड्राफ्टमैन, लखनपाल लेखा लिपिक, शाकिर कंप्यूटर आपरेटर, उमेश कुमार सेवादार कार्यालय में हाजिर पाए गए। वहीं कार्यकारी अभियंता नरेंद्र सिंह कुंडू जिनके कार्यालय के बोर्ड पर भी उनका नाम अंकित नहीं मिला और वह हाजिर नहीं मिले जबकि वह अवकाश पर भी नहीं थे तथा दिनेश कुमार लेखाकार, लक्ष्मण सिंह दलाल हैड ड्राफ्ट मैन, शौकत अली क्लर्क भी कार्यालय में हाजिर नहीं मिले। इसी तरह से पुन्हाना उप मंडल अभियंता पंचायत राज में कोई भी अधिकारी और कर्मचारी हाजिर नहीं मिला।

मेवात में मुख्यमंत्री उड़नदस्ता ने मचाया हड़कम्प: पंचायती राज विभाग कार्यालय में किया औचक निरीक्षण, नदारद मिले अधिकारी व कर्मचारी

पुन्हाना के एसडीओ ने बताया कि उनकी तैनाती पलवल में है व अतिरिक्त चार्ज यहां का है तो कोई काम होने पर ही आते हैं पर बाकी कर्मचारी भी 3 बजे तक कार्यालय से नदारद रहे। इस बारे में मुख्यमंत्री उड़नदस्ता रेवाड़ी के डीएसपी राजेश चेची ने बताया कि करीब 12 बजे नूंह में पंचायती राज विभाग के कार्यकारी अभियंता के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया, जिसमें वह नदारद मिले। इसके अलावा अन्य कर्मचारी भी नदारद मिले। जबकि पुन्हाना में दोपहर बाद निरीक्षण के दौरान कोई भी कर्मचारी कार्यालय में मौजूद नहीं मिला। वहीं एसडीओ से जब उन्होंने बात की तो उन्होंने पुन्हाना का अतिरिक्त चार्ज होने की बात कहीं। उन्होंने उक्त सभी अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए उच्चाधिकारियों को अवगत कराया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के लापरवाह अधिकारियों के कारण नूंह जिला आगे नहीं बढ़ पा रहा

.

.

Advertisement