फाग के दिन गांव रत्ताखेड़ा में दो पक्षों में हुआ झगड़ा, दोनों पक्षों के 7 लोग घायल, गांव में तनाव का माहौल

97
Advertisement

एसपी नरेंद्र बिरजानियां व एसडीएम डा. आनंद शर्मा ने किया गांव दौरा

एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस फोर्स तैनात

एस• के• मित्तल
सफीदों,     उपमंडल के गांव रत्ताखेड़ा में फाग वाले दिन दो पक्षों में झगड़ा हो गया। इस झगड़े में दो पक्षों के करीब 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को सफीदों के नागरिक अस्पताल में लाया गया जहां से उन्हें पीजीआई रेफर कर दिया गया। इस हुए झगड़े के कारण गांव में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। मामले की सूचना पाकर डीएसपी आशीष कुमार, सदर थाना कृष्ण कुमार व सिटी थाना प्रभारी सुरेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया। वहीं तनाव को देखते हुए पुलिस अधीक्षक जींद नरेंद्र बिरजानिया व एसडीएम डा. आनंद कुमार शर्मा ने भी गांव का दौरा किया तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहीं पुलिस ने एहतियात के तौर पर 25 जवानों की फोर्स गांव में तैनात कर दी है। मिली जानकारी के अनुसार फाग के दिन गांव रताखेड़ा मोड़ पर हरियाणा वेयर हाउसिंग के कारपोरेशन के गोदामों के पास गांव रत्ताखेड़ा व गांव सिंघपुरा के दो पक्षों में किसी बात को लेकर भारी झगड़ा हो गया। झगड़े में दोनों पक्षों के करीब 7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मामले की सूचना पुलिस को दी गई। सूचना पाकर आनन-फानन में पुलिस फोर्स में मौके पर पहुंची और लोगों की मदद से घायलों को सफीदों के नागरिक अस्पताल में पहुंचाया, जहां से उन्हे प्राथमिक उपचार देकर पीजीआई रैफर कर दिया गया। घायलों में एक पक्ष के गांव सिंघपुरा की संतोष, अनिल, वेदपाल व मुकेश तथा दूसरे पक्ष के गांव रत्ताखेड़ा निवासी आजाद, प्रदीप व पवन शामिल है।
यह भी देखें:-

तेज स्पीड बाइक ने पीछे से मारी टक्कर… आदर्श कॉलोनी जींद रोड पर कल फाग दिवस का है मामला… सफीदों के नागरिक अस्पताल से लाइव…

तेज स्पीड बाइक ने पीछे से मारी टक्कर… आदर्श कॉलोनी जींद रोड पर कल फाग दिवस का है मामला… सफीदों के नागरिक अस्पताल से लाइव…

 

बाक्स:

दोनों पक्षों के ब्यानों पर अलग-अलग मामले दर्ज

इस मामले में पुलिस ने दोनों पक्षों के ब्यानों पर अलग-अलग मामले दर्ज किए है। एक पक्ष के गांव सिंघपुरा निवासी अनिल कुमार ने अपने ब्यानों में कहा कि 18 मार्च को सांय करीब 4 बजे मैं व मेरा भाई वेदप्रकाश अपने गांव सिंघपुरा में मौजुद थे। हमें घर पर सुचना मिली कि रताखेड़ा रोड पर वेयर हाउस के गोदाम के पास बनी हुई कालोनी में रहने वाले हमारे परिवार के सदस्यो के साथ गांव रताखेड़ा के व्यक्तियों ने इक्कठे होकर लड़ाई-झगड़ा किया हुआ है। सुचना मिलने पर हम दोनों मोटरसाईकिल पर कालोनी में पहुंचे तो देखा कि गांव रताखेड़ा के करीब 60/70 लड़के हाथों में लाठी-डण्डें व तलवार लेकर हमारी कालोनी में सुरेश के घर मे आए हुए थे। जैसे ही हम वहां पर पहुंचे तो वहां पर उन लड़कों ने हम पर हमला करके मुझे, मेरे भाई वेदप्रकाश व मेरी भाभी संतोष को काफी चोटें मारी। जब हमारी कालोनी के लोग मौके पर पहुंचे तो वे लोग हमें धमकी देते हुए मौके से चले गए। इस ब्यान पर पुलिस ने बोबी, पोना, सोनू, जीता व मुन्ना को नामजद करते हुए भारतीय दंड संहिता की धारा 146,147, 148, 149, 323, 341, 506 के तहत मामला दर्ज कर लिया। वहीं दूसरे पक्ष के गांव रत्ताखेड़ा निवासी आजाद ने अपने ब्यानों में कहा कि 18 मार्च को सफीदों से अपने घर रताखेड़ा आ रहा था तो रास्ते में आरोपी सड़क पर बैठकर शराब पी रहे थे। इन युवकों ने पूरी सड़क को घेरकर आने-जाने का रास्ता बंद कर रखा था। जब मैंने सड़क पर बैठे युवकों को एक तरफ उठने के लिए कहा तो उन्होंने मेरे साथ मारपिटाई शुरू कर दी व लाठी-डंडों से हमला बोल दिया। मौके  पर मेरा छोटा भाई प्रदीप व मेरा भतीजा पवन भी आ गए। वे मुझे छुड़वाने लगे तो इतने में मौके  पर 20-25 आदमी और औरतें कॉलोनी से लाठी-डंडे लेकर आ गए और सभी ने मिलकर हमें बुरी तरह से पीटा और मेरे गले की चैन और 4500 रुपए छीनकर भाग गए। जाते-जाते वे हमें जान से मारने की धमकी दे गए। इस ब्यान पर पुलिस ने गांव सिंघपुरा के सतीश, विक्की, करनैल, बेदू, पृथ्वी, विजय, कृष्ण, परवेश, अभी, सुरेश को नामजद करते हुए भारतीय दंड संहिता की धारा 146, 147, 148, 149, 323, 341, 379बी व 506 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
यह भी देखें:-

18 मार्च को न्यूज़ पेपर में छपी खबर…

18 मार्च को न्यूज़ पेपर में छपी खबर…

बाक्स:

रत्ताखेड़ा गांव के मंदिर में हुई पंचायत

इस सारे मसले को लेकर शनिवार सुबह गांव रत्ताखेड़ा के शिव मंदिर में मौजिज लोगों की पंचायत हुई। इस पंचायत में सदर थाना प्रभारी कृष्ण कुमार पहुंचे और ग्रामीणों से बातचीत की। पंचायत में ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि उनके गांव के मोड़ के पास एक कॉलोनी कटी हुई है जिसमें गांव सिंघपुरा के परिवार रहते हैं। इस कॉलोनी के कुछ युवा शराब पीकर हुडदंग करते हुए यहां से निकलने वाले लोगों के साथ झगड़ा व बदतमीजी करते हैं। इससे पहले भी यहां इस प्रकार की कई वारदातें हो चुकी हैं। पंचायत ने साफ किया कि गांव रताखेड़ा की पूरी पंचायत हर समय प्रशासन के साथ खड़ी है। पुलिस इस मामले में दूध का दूध व पानी का पानी करें। अगर इस मामले में गांव रत्ताखेड़ा के लोगों की गलती मिलती है तो पूरा गांव उन आरोपियों को प्रशासन के सम्मुख खुद पेश करेगा उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग रखी कि इस मामले के आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाए। जिस पर एसएचओ कृष्ण कुमार ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि पुलिस इस मामले में तत्परता से लगी हुई है तथा उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने गांव के लोगों से अनुरोध किया कि वे अपना भाईचारा बनाकर रखें तथा किसी भी प्रकार का तनाव उत्पन्न ना होने दें।
YouTube पर यह भी देखें:-

Advertisement