प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अग्रवाल समाज ने लिखा पत्र

78
Advertisement

 

अग्रसेन जयंती को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की रखी मांग

 

एस• के• मित्तल      

जीन्द, अखिल भारतीय अग्रवाल समाज हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष डा. राजकुमार गोयल ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अग्रसेन जयंती को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की मांग की है। पत्र में लिखा गया है कि इस पर्व को राष्ट्रीय पर्व घोषित किया जाए ताकि महाराजा अग्रसेन की जयंती को पूरे देश के लोग पर्व के रूप में मना सकें।

करनाल के बिजली निगम में 10 लाख का गबन: तीन कर्मचारियों पर आरोप, कॉन्ट्रैक्ट बेस पर निगम में कर रहे काम, सेक्टर 32,33 थाना में मामला दर्ज

देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लिखें पत्र में कहा गया है कि महाराजा अग्रसेन पहले ऐसे महापुरूष हुए हैं जिन्होंने एक रूपया एक ईंट के संदेश के साथ पूरी दुनिया को समाजवाद का पाठ पढ़ाया। महाराजा अग्रसेन को समाजवाद का अग्रदूत कहा जाता है। उन्होने अपनी शासन प्रणाली में एक नई व्यवस्था को जन्म दिया। वे एक ऐसे अहिंसा के पुजारी थे जिनके राज्य में रहने वाली जनता के दिलों में समानता का भाव कूट कूट कर भरा जाता था और दान देने की प्रवृति का समावेश किया जाता था जिसके चलते जनता में हमेशा समाज सेवा की प्रवृति प्रबल रहती थी।

पत्र में आगे लिखा गया है कि ऐसे युग पुरुष की जयंती के उपलक्ष्य में हरियाणा सरकार ने तो पिछले लंबे समय से सार्वजनिक अवकाश घोषित किया हुआ है लेकिन केन्द्र सरकार ने अभी तक इस पर्व को राष्ट्रीय पर्व घोषित नहीं किया है। लम्बे समय से यह मांग अधर में लटकी पड़ी है। पत्र के माध्यम से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की गई की इस पर्व को राष्ट्रीय पर्व घोषित किया जाए ताकि महाराजा अग्रसेन की जयंती को पूरे देश के लोग पर्व के रूप में मना सकें।

सुप्रीम कोर्ट का फैसला सिखों की जीत: बलजीत सिंह दादूवाल बोले- अब आगामी कार्रवाई कानून के अनुसार ही करेंगे

 

अग्रवाल समाज के अध्यक्ष राजकुमार गोयल का कहना है कि वे पिछले कई सालों से देश के प्रधानमंत्री को पत्र लिखते आ रहे है। 2017 में तो जो पत्र लिखा गया उसके जवाब में मिले पत्र क्रमांक पीएमओपीजी/डी/2017/0450452 में लिखा गया कि आपके इन सुझावों को आगामी कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है। गोयल ने मांग की है कि इस अधूरी पडी मांग पर अमल करते हुए महाराजा अग्रसेन जयंती को जल्द से जल्द राष्ट्रीय पर्व घोषित किया जाए।

 

Advertisement