नर्चर फाउंडेशन संस्था के राष्ट्रीय संरक्षक एडवोकेट तंवर बोले:: अमृता अस्पताल से फरीदाबाद को एक नई पहचान मिलेगी, यह शहर के लिए गौरव की बात है

32
Quiz banner
Advertisement

 

 

  • एडवोकेट तंवर ने कहा अम्मा ने शहर को जो तोहफा दिया उसका हम सभी उनका धन्यवाद करते हैं।

नर्चर फाउंडेशन संस्था के राष्ट्रीय संरक्षक एडवोकेट कमल सिंह तंवर ने कहाकि बुधवार से शुरू हो रहे देश के सबसे बड़े अमृता अस्पताल से फरीदाबाद को एक नई पहचान मिलेगी। यह शहर के लिए गौरव की बात है कि देश का सबसे बड़ा अस्पताल यहां बना है। इसके शुरू होने से शहर ही नहीं बल्कि अन्य लोगों को भी बेहतर इलाज की सुविधा मिल सकेगी।

ITI काउंसलिंग आज 9 बजे से शुरू: 26 सितंबर तक चलेगी एडमिशन प्रक्रिया, 3952 सीटों पर आए 10165 आवेदन, मोबाईल पर मिलेगा मैसेज

एडवोकेट तंवर ने कहा कि बुधवार को शहर को एक बड़े अस्पताल के रूप में जो पहचान मिलने जा रही है उसका सारा श्रेय अमृतामयी हॉस्पिटल की संस्थापक मां अमृतानंदमयी हैं। जिनके पऱ्यासों से फरीदाबाद क्षेत्र में इतना बड़ा हॉस्पिटल बना है। एडवोकेट तंवर ने मंगलवार को ‌विभिन्न संस्थाओं के साथ आयोजित एक संयुक्त पत्रकारवार्ता में कहाकि अम्मा ने शहर को जो तोहफा दिया उसका हम सभी उनका धन्यवाद करते हैं। उन्होंने कहाकि अमृतानंदमयी अम्मा के हॉस्पिटल में स्थानीय लोगों को रोजगार तो मिलेगा ही साथ ही उम्मीद है कि गरीबों को निशुल्क और कम कीमतों पर उपचार मिल सकेगा। इस दौरान एडवोकेट तंवर ने यहां के लोगों से शहर के लिए एकजुट होकर कार्य करने का आह्वान किया। इस दौरान एडवोकेट तंवर ने कहाकि प्रधानमंत्री के फरीदाबाद आगमन पर हॉस्पिटल के आसपास के क्षेत्र में जिस तरह से विकास किया गया है, उसी तरह फरीदाबाद के अन्य हिस्सों में भी विकास कराएं जाए।

 

5वें दिन भी हवालाती का अंतिम संस्कार नहीं: परिजनों का धरना जारी, बोले- जब तक दोषियों पर कार्रवाई नहीं होती तब तक नहीं उठेंगे

जिससे पूरे शहर का संपूर्ण विकास होने से यहां के लोगों को इसका फायदा मिल सके। एडवोकेट तंवर ने नाहर सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के अधूरे पड़े कार्य को जल्द पूर्ण कराने का आह्वान किया। जिससे स्टेडियम के रूप में शहर को एक बार फिर पुरानी पहचान मिल सके। पत्रकारवार्ता में संस्था की राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट राधा चौहान व शिवमती धर्मार्थ समिति की अध्यक्ष डॉ. विंध्या गुप्ता ने शहर के सभी आरटीआई एक्टिविस्ट, एनजीओ और समाजसेवियों से फरीदाबाद विकास मंच के बैनरतले जाति, धर्म और दलीय राजनीति से ऊपर उठकर फरीदाबाद के हित में काम करने के लिए आह्वान किया। उक्त पदाधिकारियों ने फरीदाबाद को भयमुक्त और भ्रष्टाचार मुक्त बनाने का संकल्प लिया।

 

खबरें और भी हैं…

.
कल हरियाणा रोडवेज कर्मियों का धरना: निजीकरण का विरोध जताएंगे; सरकार की योजना- 550 इलेक्ट्रिक बसें लाना, 952 प्राइवेट परमिट देना

.

Advertisement