ढेंचा बीज किसानों को 80 फीसदी अनुदान पर उपलब्ध : उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार

117
Advertisement

अनुदान का लाभ लेने के लिए 25 मार्च तक ऑनलाइन पंजीकरण करें किसान 

 

एस• के• मित्तल
जींद,   हरियाणा सरकार द्वारा किसानों को खरीफ मौसम के दौरान 8० प्रतिशत अनुदान पर ढेंचा बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। किसान को योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन एग्रीहरियाणाडॉटएनआईसीडॉटइन पर पंजीकरण करवाना होगा। ऑनलाइन पंजीकरण करने की अंतिम तिथि 25 मार्च है। उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि ढेंचा बीज खरीदने के लिए किसान को केवल 20 फीसदी राशि का भुगतान करना होगा, बाकि 80 फीसदी का भुगतान सरकार करेगी। प्रति हैक्टेयर  25 किलोग्राम बीज की मात्रा निर्धारित की गई है। उन्होंने स्पष्ट किया कि योजना का लाभ लेने के लिए मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पार्टल पर पंजीकरण होने के साथ-साथ आधार कार्ड, वोटर कार्ड या किसान क्रेडिट कार्ड होना अनिवार्य है। कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ. सुरेन्द्र मलिक ने बताया कि ढेंचा खाद से खेत की सेहत सुधेरगी और भूमि की उर्वरा शक्ति भी बढ़ेगी। उन्होंने सलाह दी कि जमीन की सेहत सुधारने के लिए ढेंचा की बिजाई बहुत फायदेमंद है।

 

यह भी देखें:-

तेज स्पीड बाइक ने पीछे से मारी टक्कर… आदर्श कॉलोनी जींद रोड पर कल फाग दिवस का है मामला… सफीदों के नागरिक अस्पताल से लाइव…

तेज स्पीड बाइक ने पीछे से मारी टक्कर… आदर्श कॉलोनी जींद रोड पर कल फाग दिवस का है मामला… सफीदों के नागरिक अस्पताल से लाइव…

 

हरियाणा सरकार की ओर से ढेंचा बीज पर किसानों को 80 फीसद अनुदान पर दिया जा रहा है। इससे जमीन की उर्वरा शक्ति बढ़ती है। योजना का लाभ लेने के लिए टोल फ्री नंबर 1800-80- 2117 या  उपमंडल कृषि कार्यालय से संपर्क किया जा सकता है।
ऐसे बढ़ती है भूमि की उर्वरा शक्ति
डॉ. सुरेन्द्र मलिक के मुताबिक ढेंचा फसल कम लागत में अच्छी हरी खाद का काम करती है। इससे भूमि को नाइट्रोजन मिल जाती है। हरी खाद से भूमि में कार्बनिक पदार्थ बढऩे से भूमि व जल संरक्षण तथा संतुलित मात्रा में पोषक तत्व मिलने से भूमि की उपजाऊ शक्ति बढ़ जाती है।

 

 

YouTube पर यह भी देखें:-

Advertisement