जीवन में नशाखोरी से दूर रहे युवा: कुलभूषण जैन

105
Advertisement

मुआना गांव में चल रहा एनएसएस कैंप संपन्न

एस• के• मित्तल
सफीदों,      राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मुआना में चल रहे एनएसएस कैंप का समापन हो गया। समापन अवसर पर बच्चों ने स्कूल स्टेज की मुरम्मत व विद्यालय प्रांगण की साफ-सफाई की। एनएसएस कार्यक्रम अधिकारी कुलभूषण जैन ने स्वयंसेवकों को पराली ना जलाने केप्रति जागरूक करते हुए बताया कि पराली जलाने से पर्यावरण प्रदूषण होता है तथा तो मानवीय जीवन के लिए भी बहुत बड़ा खतरा है। उन्होंने स्वयंसेवकों को नशे से दूर रहने की प्रेरणा देते हुए कहा कि नशाखोरी से मनुष्य को शारीरिक, मानसिक व आर्थिक नुकसान होता है तथा कई बार बड़े से बड़े परिवार तबाह होते देखे जाते हैं। जब युवा खुश नशा छुड़़कर दूसरों को भी नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित करेंगे तभी हमारा समाज सही मायने में  खुशहाल समाज बनेगा और एनएसएस स्वयंसेवक के अर्थ को चरितार्थ करेगा। उन्होंने स्वयंसेवकों को शिविर के दौरान सीखी हुई बातें एवं ज्ञान को अपने जीवन में अपनाकर अपने गुरुजनों, माता-पिता तथा समाज का नाम रोशन करने का संकल्प दिलवाया।
यह भी देखें:-

हिंदी हरियाणवी कलाकार आशु मलिक का धांसु इंटरव्यू… देखिए लाइव…

हिंदी हरियाणवी कलाकार आशु मलिक का धांसु इंटरव्यू… देखिए लाइव…

अपने संबोधन में अंग्रेजी प्राध्यापक सुरेंद्र दुग्गल ने यातायात के नियमों के बारे में स्वयंसेवकों को बताते हुए कहा कि सड़क पर चलते हुए हमें केवल अपनी सुरक्षा ही नहीं अपितु दूसरों की भी सुरक्षा करनी होती है। सड़क नियमों की पालना करके हम सड़क दुर्घटनाओं में कमी की जा सकती है। बच्चों को प्राथमिक चिकित्सा उपचार प्रशिक्षक रणधीर सैनी ने स्वयंसेवकों को आपातकालीन स्थिति में प्राथमिक चिकित्सा देने की अनेक विधियां व उपचारों के बारे में जानकारी दी। प्राचार्य सुरेश मलिक ने स्वयंसेवकों के द्वारा 7 दिनों में किए गए कार्यों की भूरी-भूरी प्रशंसा की। इस मौके पर एनएसएस अधिकारी कुलभूषण जैन ने स्वयंसेवक बलराज, प्रदीप, पूजा, निक्की को विशेष तौर पर बेस्ट स्वयंसेवक के तौर पर पुरस्कृत किया।
YouTube पर यह भी देखें:-

Advertisement