जींद में आज अशोक बुवानीवाला हुकुम चंद जैन शहीदी दिवस समारोह में करेंगे शिरकत

114
Advertisement
एस• के• मित्तल
सफीदों,   अग्रवाल वैश्य समाज के प्रदेशाध्यक्ष अशोक बुवानीवाला आज 19 जनवरी को जींद में आयोजित होने वाले शहीद हुकुम चंद जैन शहीदी दिवस समारोह में सम्मिलित होंगे। ये जानकारी देते हुए अग्रवाल वैश्य समाज सफीदों विधानसभा अध्यक्ष प्रवीन मित्तल ने देते हुए बताया कि अग्रवाल वैश्य समाज द्वारा प्रदेशाध्यक्ष अशोक बुवानीवाला के मार्गदर्शन में प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के महानायक शहीद हुकुम चंद जैन का 164वां शहीदी दिवस प्रदेशभर में मनाया जा रहा है। इन कार्यक्रमों में समस्त वैश्य एवं जैन समुदाय के साथ प्रत्येक वर्ग शहीद हुकूमचंद जैन को श्रद्धांजली अर्पित करेगा। कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि जींद के जुलानी रोड़ स्थित एसपी मैमोरियल पब्लिक स्कूल में प्रदेशाध्यक्ष अशोक बुवानीवाला की अध्यक्षता में आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम में उद्योगपति एवं समाज के कोषाध्यक्ष कमल मित्तल भी बतौर अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश के स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और शौर्य गाथाओं को अमर रखने के लिए अग्रवाल वैश्य समाज हरियाणा वैश्य समाज के गौरव स्वतंत्रता सेनानी हुकुम चंद जैन के 164वें शहीदी दिवस का आयोजन सभी जिलों में आयोजित करेगा ताकि 1857 की क्रांति में अग्रिम पंक्ति के स्वतंत्रता सेनानी को उनके शहीद दिवस आयोजित कर भावी पीढ़ी को प्रेरणा दी जा सके।
यह भी देखें:-
शराब व्यापारी गौरव अग्रवाल के हत्यारोपियों के पकड़े जाने पर क्या कहते हैं महाबीर कंप्यूटर… देखिए लाइव…
शहीद हुकुम चंद जैन को स्मरण करते हुए प्रवीन मित्तल ने कहा की वे महान देशभक्त व कुशल प्रशासक थे। उनकी काबलियत को देखते हुए बहादुरशाह जफर ने उन्हेंं हांसी, हिसार और करनाल जिले के कुछ गांवों का कानूनगों नियुक्त किया था। 29 मई 1857 को लाला हुकुम चंद तथा मुनीर बेग के नेतृत्व में जनता ने अंग्रेजी शासन के खिलाफ बगावत का झंडा बुलंद किया था। हांसी की लाल सड़क देश की आजादी के लिए यहा के वीरों द्वारा दी गई कुर्बानियों की साक्षी है। प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में बहादुरशाह को सहायता करने का आश्वासन देने का पत्र लिखने के आरोप में अंग्रेजों ने हुकुम चंद व उनके भतीजे फकीर चंद तथा मिर्जा मुनीर बेग को फांसी पर लटका दिया था।
Advertisement