जिला परिषद के सीईओ ने जल शक्ति अभियान का निर्धारित लक्ष्य पूरा करने के दिए निर्देश कहा- अधिकारी अभियान के तहत कार्यों को प्रतिदिन पोर्टल पर करें अपलोड

97
Advertisement

जल शक्ति अभियान :  

एस• के • मित्तल   
जींद,      जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमित कुमार ने जल शक्ति अभियान की समीक्षा करते हुए संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्धारित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। वे बुधवार को डीआरडीए स्थित अपने कार्यालय में जल शक्ति अभियान से जुड़े विभागों के अधिकारियों की बैठक ले रहे थे। उन्होंने बताया कि जल शक्ति अभियान केंद्र सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है।
इस अभियान के तहत जल सरंक्षण और वर्षा जल संचयन, पारंपरिक और अन्य जल निकायों का नवीनीकरण, पानी का पुन: उपयोग और संरचनाओं का पुनर्भरण, वाटरशेड विकास तथा पौधारोपण आदि के कार्य किए जाएंगे। उन्होंने अधिकारियों को इस अभियान के तहत किए जाने वाले कार्यों को प्रतिदिन पोर्टल पर अपलोड करने की भी हिदायत दी है। उन्होंने अधिकारियों को जल शक्ति अभियान के तहत किए जाने वाले कार्यों के बारे में आमजन को जागरूक करने के भी निर्देश दिए हैं। सीईओ ने बैठक में सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, वन विभाग, शिक्षा विभाग, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण विभाग, जन-स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग, जिला विकास एवं पंचायत विभाग, लोक निर्माण विभाग सहित विभिन्न विभागों के द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की और निर्धारित लक्ष्यों को शीघ्र पूरा करने के निर्देश भी दिए।
मनरेगा के परियोजना अधिकारी राकेश कुमार  ने जिला परिषद के सीईओ को जल शक्ति अभियान के तहत संबंधित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर जिला परिषद की डिप्टी सीईओ रेणुका नांदल, पिल्लूखेड़ा के एसईपीओ शकूर खान,उचाना के एसईपीओ बलजीत सिंह, जिला मत्स्य अधिकारी दिलबाग सिंह, जन स्वास्थ्य विभाग नरवाना कार्यालय के विनोद कुमार, सिंचाई विभाग जींद के कार्यकारी अभियंता पुनीत राय, आरएफओ देवेन्द्र सिंह, लोक निर्माण विभाग के निखिल कुमार, उप जिला शिक्षा अधिकारी सुमित्रा देवी , कृषि किसान कल्याण विभाग से नरेन्द्र पाल संहित विभिन्न विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।
Advertisement