जनता की समस्याओं के समाधान के लिए अधिकारी उसकी तह में जाकर उनका स्थायी समाधान करवाना करें सुनिश्चित : श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री अनूप धानक 

69
Advertisement

अधिकारी जनता की समस्याओं और शिकायतों का करें स्थायी समाधान

कहा : कार्यालयों में शिकायतों के समाधान के लिए आने वाले लोगों के साथ अधिकारी विनम्र व्यवहार करें

 

एस• के• मित्तल

जींद, शुक्रवार को डीआरडीए हॉल में जिला परिवेदना समिति की बैठक श्रम राज्य मंत्री अनूप धानक की अध्यक्षता में हुई।

See MORE:

न्याय के लिए डीएसपी से मिली डिड़वाड़ा गांव की मीना देवी  , डीएसपी आशीष कुमार ने दिया उचित कार्रवाई का भरोसा

इस दौरान कुल 14 शिकायतें मंत्री के समक्ष रखी गई, जिनमें से आठ का समाधान कर दिया गया और 6 शिकायतों के लिए अधिकारियों व जिला परिवेदना समिति के सदस्यों की अलग-अलग कमेटियां बनाई गई। यह कमेटियां समस्या की तह तक जाकर उनके समाधान बारे अगली बैठक में रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। इस अवसर पर उनके साथ जींद के विधायक कृष्ण लाल मिढ़ा, जुलाना के विधायक अमरजीत ढांडा भी उपस्थित थे। श्रम एवं रोजगार मंत्री अनूप धानक ने अधिकारियों को सम्बोन्धित करते हुए कहा कि वे जनता की समस्याओं और शिकायतों का समाधान त्वरित आधार पर करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने अधिकारियों को कहा कि वे आमजन की शिकायत को लेकर उसकी तह में जाकर स्थाई समाधान निकालें। कार्यालयों में आने वाली शिकायतों को लेकर आने वाले लोगों के साथ अधिकारी विनम्र व्यवहार करें। शिकायतकर्ता श्रीमती बीरमति निवासी श्रीरागखेड़ा द्वारा राशन कार्ड पर राशन न मिलने की शिकायत रखी गई थी जिसका जिला खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा समाधान कर शिकायतकर्ता को संतुष्ट किया जा चुका है।

दलबीर मोर निवासी मोरपत्ती नरवाना ने शिकायत सितम्बर 2017 में तीन एकड़ बाजरे की फसल जलभराव के कारण खराब हो गई थी जिसका मुआवजा नहीं मिला था। इस पर मंत्री द्वारा सम्बंधित बैंक को आगामी 10 दिन में शिकायत का समाधान कर रिपोर्ट उपायुक्त जींद को भेजने के निर्देश दिए। गांव गढ़ी तहसील नरवाना के सभी ग्रामवासियों ने शिकायत की कि उनके गांव में अनुसूचित जाति की कालोनी में पानी निकासी का कोई रास्ता नहीं है। इस पर संज्ञान लेते हुए राज्य मंत्री ने इस समस्या का आगामी एक माह में समाधान कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

मियासिंह निवासी चूहडपुर द्वारा उनके पशुओं के बाडे में खडे बिजली के खम्बों बारे रखी गई शिकायत का समाधान हो गया और शिकायतकर्ता ने अपनी संतुष्टि जताई। इसी प्रकार राजकुमार गोयल प्रधान जींद विकास संगठन ने भी अपनी समस्या के समाधान होने पर रजामंदी दी। ईंटल कलां गांव के लोगों द्वारा गांव में पीने के पानी की समस्या बैठक में रखी गई थी जिसका विभाग द्वारा समाधान करवा दिया गया है और शिकायतकर्ता विभागीय कार्यवाही से संतुष्ट पाए। शहर में टायर फैक्ट्रियों से हो रहे प्रदूषण बारे की गई शिकायत का भी समाधान किया जा चुका है। बलविन्द्र गांव नगूरा की आपसी विवाद बारे शिकायत का भी निवारण हो गया है।

राजेन्द्र निवास धनखड़ी द्वारा गांव में सफाई कर्मचारियों मीना पत्नी रामफल व अशोक पुत्र ओमप्रकाश की सही तरीके से सफाई ना करने बारे शिकायत का भी आपसी सहमति से निवारण करवाया गया। रामचन्द्र निवासी बरसोला ने बैठक में अपनी शिकायत में बताया कि उनका सैंट्रल बैंक बरसोला में खाता है। उसके बैंक खाता में बैंक की अनियमितता की वजह से उनका पैन कार्ड किसी अन्य आदमी के पैन कार्ड से जुड़ गया था, जिसमें बैंक का लोन प्रार्थी की तरफ गलत तरीके से दर्शाया गया, जो प्रार्थी ने लिया ही नहीं था।

इतना ही नहीं बैंक खाता में जमाराशि होने की वजह से प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत उनका स्वीकृत मकान भी रद्द हो गया। जिसके लिए पूर्णतया बैंक की कार्यप्रणााली जिम्मेदार है। मामले पर संज्ञान लेते हुए समिति अध्यक्ष एवं श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री अनूप धानक ने अगली बैठक में बैंक मैनेजर को व्यक्तिगत रूप से पेश होने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने सीईओ जिला परिषद को प्रार्थी का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान स्वीकृत करने के निर्देश भी दिए।

जगदीश निवासी बधाना का जमीन के इंतकाल न होने और रिकार्ड में गलत रकबा दर्शाने से सम्बंधित मामले की गहराई से जांच के लिए एसडीएम जींद को कार्यवाही करने और अगली मिटिंग में रिपोर्ट देने के लिए कहा। रूपगढ़ निवासी राजबाला के मामले में जिला समाज कल्याण अधिकारी जींद को प्रार्थी की वृद्धावस्था भत्ता अगले दस दिन में बनाने और इसकी रिपोर्ट उपायुक्त जींद को करने के लिए राज्य मंत्री ने निर्देश दिए। राजेन्द्र निवासी अर्बन स्टेट की गंदा पानी निकासी बारे रखी शिकायत पर राज्य मंत्री ने हुड्डा के सम्पदा अधिकारी को निद्रेश दिए कि वे सुपर सक्कर मशीन एक साल तक किराये पर लेने बारे तुरंत प्रभाव से विभागीय प्रस्ताव उपायुक्त को भेजें।

खांडा गांव निवासी अशोक कुमार ने शिकायत की थी की वाटर सप्लाई की नई पाईप लाईन की लीकेज से उनके मकान को नुक्सान पहुंचा है इस पर राज्य मंत्री ने संज्ञान लेते हुए एक कमेटी बनाकर मौके का निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। बैठक के दौरान उपायुक्त डॉ. मनोज कुमार,पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र बिजरानिया, अतिरिक्त उपायुक्त साहिल गुप्ता, सफीदों के एसडीएम डॉ. आनंद कुमार शर्मा (आईएएस), जींद के एसडीएम डॉ. वेद प्रकाश, नरवाना के एसडीएम सुरेन्द्र कुमार, एसीयूटी दीपक कारवा, नगराधीश अमित कुमार, जिला परिषद की सीईओ डा. किरण सिंह,आरटीए प्रतीक हुड्डा, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के प्रशासक प्रवीन कुमार, सीएमजीजीए साकेत शुभ व सम्बंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Advertisement