क्लर्क भर्ती परीक्षा-2019 में फर्जीवाड़ा: एचएसएससी ने पंचकूला में 15 कैंडिडेट के खिलाफ कराया केस दर्ज; एग्जाम में दूसरे को बैठाया

20
Quiz banner
Advertisement

 

 

हरियाणा स्टाफ सलेक्शन कमीशन (एचएसएससी) द्वारा 2019 में ली गई क्लर्क की परीक्षा के दौरान कैंडिडेट ने अपनी जगह किसी दूसरे व्यक्ति द्वारा परीक्षा देने का खुलासा हुआ है। एचएसएससी के चेयरमैन की शिकायत पर पंचकूला सेक्टर 5 थाना पुलिस ने 15 कैंडिडेट के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

नारनौल में बस रोककर यात्रियों को पीटा: लड़कियों के साथ छेड़छाड़ से जोड़ा जा रहा मामला, सोशल मीडिया पर VIDEO वायरल

इनके खिलाफ केस दर्ज

पुलिस ने खुशी राम, मोनू सांगवान, राहुल कुमार, विशाल, प्रदीप कुमार, दिनेश, सोनू, राकेश कुमार, सत्यवान, राममेहर, दीपक, प्रदीप कुमार, रवि, मंदीप और सचिन के खिलाफ मामला दर्ज किया है। हरियाणा स्टाफ सेलेक्शन कमीशन की ओर से मई 2019 में क्लर्क की पोस्ट के लिए विज्ञापन निकाला गया। इसके लिए हरियाणा के सभी जिलों में 21, 22 और 23 सितंबर 2019 को लिखित परीक्षा आयोजित की गई।

न उंगली के निशान न चेहरा हुआ मैच

लिखित परीक्षा में पास कैंडिडेट का डॉक्यूमेंट वैरिफिकेशन सेक्टर 5 परेड ग्राउंड में 21 मई से 6 जून 2022 तक किया गया। डॉक्यूमेंट वैरिफिकेशन के दौरान अलग-अलग जिलों के कुल 15 कैंडिडेट के न ही फिंगर प्रिंट मैच हुए, न ही सीसीटीवी फुटेज में उनके चेहरे आए। साथ में वीडियो ग्राफी भी उनसे मैच नहीं हुई। हरियाणा स्टाफ सलेक्शन कमीशन की ओऱ से उन 15 कैंडिडेट के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी गई। पुलिस ने उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

 

खबरें और भी हैं…

.
पुलिस की बड़ी कार्रवाई: हापुड़ में पेशी के दौरान हत्यारोपी लखन की गोली मारकर हत्या करने वाला इनामी बदमाश गिरफ्तार

.

Advertisement