कोरोना महामारी रोकने को जिलाधीश ने दिए उपमण्डलों में माईक्रो कन्टेनमैंट जोन स्थापित करने के निर्देश

119
Advertisement
एस• के• मित्तल
जींद,  24  जनवरी       जिलाधीश नरेश नरवाल ने जिला के सभी उपमण्डलाधीश को सम्बन्धित उपमण्डलों में माईक्रो कन्टेनमैंट जोन स्थापित करने के निर्देश दिए है यह निर्देश जिला में कोविड-19 महामारी के फैलते हुए प्रकोप पर अंकुश लगाने के लिए दिए गए है। जिलाधीश के अनुसार सम्बन्धित उपमण्डलाधीश मसलन जींद, नरवाना, सफीदों उचाना के नोडल अधिकारी रहेंगे। इसके अलावा नगरपरिषद, कमेटी जींद, नरवाना, सफीदों, उचाना, जुलाना, अलेवा तथा पिल्लूखेड़ा सभी ब्लॉकों में माइक्रो कन्टेनमैंट जोन बानने के लिए भी कहा गया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि अब तक सिविल सर्जन की रिपोर्ट के अनुसार जिला के विभिन्न क्षेत्रों में गत 21 जनवरी तक 2०6 कोरोना प्रभावित केस मिले है,इसके मध्यनजर इन सभी प्रभावित लोगों को उन्हीं के रिहायसी स्थानों पर कन्टेनमैंट रखने के लिए उक्त निर्देश दिए गए है। इसके साथ- साथ प्रभावित लोगों के आसपास के क्षेत्र को भी कन्टेनमैंट जोन घोषित किया गया है ताकि वहां अन्य लोगों की आवाजाही नियमों के अनुसार ही रहे।  जिलाधीश ने कन्टेनमैंट जोनों के लिए अलग- अलग क्षेत्रों में डयूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त कर दिए है जो अपने क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाने का कार्य करेंगे। जिलाधीश ने कन्टेनमैंट जोन में रहने वाले लोगों की थर्मल स्केनिंग करने वाली टीम को गांव में ले जाने व वापिस लाने के लिए जीएम रोड़वेज को  बसों का प्रबंध करने तथा जींद के सिविल सर्जन  को इन टीमों के लिए मास्क, ग्लबज, कैप, सेनिटाईजर, जुते व अन्य आवश्यक उपकरण उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये।
यह भी देखें:-
बीजेपी प्रैस प्रवक्ता एडवोकेट विजयपाल को सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर सुनिए… 
कन्टेनमैंट व बफर जोनों में स्प्रे करने वाली टीमों के लिए यह आवश्यक संसाधन नगर परिषद, नगर पालिका व ग्राम पंचायतों द्वारा उपलब्ध करवाये जायें। सम्बन्धित अधिकारी विभिन्न क्षेत्रों में  सब्जी, फल, दूध, राशन, दवाईयां व अन्य जरूरी सामग्री उपलब्ध करवाएंगे। कंटेनमैंट क्षेत्र में लोगों को घर द्वार पर ही सभी जरूरी सामान उपलब्ध करवाया जायेगा। उन्होंने बताया कि कन्टेनमैंट व बफर जोन में अनावश्यक गतिविधियों पर पूर्ण अंकुश लगाने के लिए पुलिस अधिकारियों को पर्याप्त नाके लगाने के निर्देश दे दिये गये है। उन्होंने कन्टेनमैंट व बफर जोन में पर्याप्त पेयजल आपूर्ति के लिए जन स्वास्थ्य विभाग तथा नियमित रूप से बिजली सप्लाई के लिए दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के अधीक्षक अभियंता  तथा पर्याप्त एम्बुलैंस की गाडिय़ां व पैरामैडिकल स्टाफ की नियुक्त करने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश जारी कर दिये है। उन्होंने जिला महिला एवं बाल विकास कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिये है कि वे कन्टेनमैंट व बफर जोनों में काम करने के लिए पर्याप्त स्टाफ की डयूटी लगाये।
Advertisement