करनाल में गर्भवती के पेट पर मारी लातें: मिसकैरेज हुआ; देवरानी और पड़ोसन पर आरोप, पति बोला- पुलिस नहीं कर रही कार्रवाई

21
Advertisement

 

हरियाणा के जिले करनाल के ब्रास गांव में दो माह की गर्भवती महिला के पेट में लात-घुस्से मारने व मारपीट का मामला सामने आया है। गर्भवती के साथ मारपीट करने वाली महिला कोई और नहीं बल्कि उसी की चचेरी देवरानी व उसकी पड़ोसन है। पेट पर पड़ी लातों की मार से गर्भवती का गर्भपात हो गया। जिसके बाद परिजनों ने गर्भवती को करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में भर्ती करवाया। जहां पर महिला का इलाज चल रहा है।

झज्जर के माता जगदंबा मंदिर में चोरी: लोहे की चेन काट कर अंदर घुसे चोर; दानपात्र से नकदी चुराकर फरार

जानकारी देते पीड़ित पति।

जानकारी देते पीड़ित पति।

31 अगस्त का बताया जा रहा मामला

पीड़ित महिला के पति ने बताया है कि मामला 31 अगस्त का है। उसकी पत्नी पीना के पेट में दर्द हुआ तो वह अपनी देवरानी के साथ अस्पताल में अल्ट्रासाउंड के लिए जा रही थी। इसी दौरान दो महिलाओं ने उसे घेर लिया और उसके साथ मारपीट की। कृष्णा पत्नी महाबीर व पूनम नामक महिला है, जिनमें से एक उसके चचेरे भाई की पत्नी है, जिसका नाम कृष्णा है। पति का आरोप है तीन दिन पहले निसिंग थाना में शिकायत दी थी। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जा रही।

पानीपत के SDVM स्कूल में द डर्टी पिक्चर: 11वीं की छात्रा से टीचर ने की छेड़छाड़, प्रबंधक ने सस्पेंड कर करवाई FIR दर्ज

पहले भी कई बार हो चुके मिसकैरेज

गर्भवती महिला के साथ मौके पर मौजूद महिला रूस्तम ने बताया कि उसकी जेठानी पीना का पहले भी कई बार मिसकैरेज हो चुका है। इसलिए डर था कि कोई दिक्कत ना हो, इसलिए पेट में दर्द होने के बाद वह अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए करनाल जा रही थी और रास्ते में कृष्णा और पूनम ने पीना के साथ मारपीट की।

पत्नी के लिए न्याय की गुहार लगाते पीड़ित।

पत्नी के लिए न्याय की गुहार लगाते पीड़ित।

पैसों के लेने दने जुड़ा है मामला

महिला रूस्तम ने बताया कि मामला पैसों के लेन देन से जुड़ा हुआ है। उसके पति व जेठ ने कृष्णा के पति महाबीर को पौने तीन लाख रुपए दिलवाए हुए थे। लेकिन पैसे लेने के बाद महाबीर लापता हो गया और महाबीर के घरवालों ने आरोप लगाया है कि हमने उसको गायब किया है और पुलिस को शिकायत भी दी हुई है। इसलिए मारपीट की है।

निसिंग थाना पुलिस पर भी लगाए आरोप

महिला के पति ने बताया है कि उसने निसिंग पुलिस थाने में मामले की शिकायत दी हुई है, लेकिन पुलिस की तरफ से अभी तक कोई भी कार्रवाई नहीं की गई है। पुलिस कहती है कि आरोपी महाबीर को ढूंढ कर लेकर आओ। नहीं तो उन्हें जेल की अंदर डाल देगें। पीड़ित ने कहा कि जब पुलिस लोगों का दर्द नहीं समझेगी तो कौन समझेगा? उच्चाधिकारियों को भी अपने थाने की सुध लेनी चाहिए।

 

खबरें और भी हैं…

.

हिसार के हांसी में नहर में डूबा युवक: नहाने गए थे तीन दोस्त, तैरना न आने से एक पानी के तेज बहाव में बहा
.

Advertisement