करनाल में आज जुटेगें जिले भर के किसान: आंदोलन के दौरान लाठीचार्ज मामले में केस दर्ज होने के विरोध में करेंगे प्रदर्शन, कई बड़े किसान नेता भी होगें शामिल

16
Quiz banner
Advertisement

 

हरियाणा के जिले करनाल में आज संयुक्त किसान मोर्चा के आहृान पर जिले भर के सैकड़ों किसान जिला सचिवालय के बाहर सुबह से 9 बजें से शाम 4 बजे तक धरना देकर सरकार के खिलाफ रोष प्रदर्शन करेगें। वहीं किसानों के इस प्रदर्शन को देखते हुए है। जिला प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। सचिवालय के बहार पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। आज के इस प्रदर्शन में प्रदेशभर के कई बड़े किसान नेताओं के शामिल होने की संभावना है।

लंपी स्कीन वायरस के फैलाव को रोकने के लिए प्रशासन अलर्ट

किसान नेता रवि आजाद ने भी किसानों से अपील

वहीं रविवार दोपहर को भाकियू के नेता रवि आजाद ने भी सोशल मीडिया पर विडियो बना कर डाला है। जिसमें उन्होंने कहा हरियाणा सरकार अधिकारियों का दुरुपयोग कर किसानों को परेशान करने का काम कर रही है। बसताड़ा टोल पर हुए लाठीचार्ज के मामले में सरकार और किसानों के बीच समझौता हुआ था, जिसके बाद किसानों पर दर्ज केस वापस ले लिए गए थे। अब समझौते को तोड़ते हुए सरकार ने बसताड़ा लाठीचार्ज में मुख्य भूमिका निभाने वाले इंस्पेक्टर हरजिंदर सिंह से 36 किसानों पर संगीन धाराओं में मामला दर्ज करवाया है।

किसान नेता रवि आजाद।

किसानों से ट्रैक्टर ट्राली लेकर आने की अपील

किसान नेता रवि आजाद ने वीडियो जारी कर किसानों से अपील की है करनाल जिला व आसपास किसान ज्यादा से ज्यादा संख्या में अपनी ट्रैक्टर ट्राली लेकर करनाल के जिला सचिवालय पहुंचे। ताकि जिन किसानों पर इंस्पेक्टर हरजिंदर द्वारा कोर्ट केस कर उन्हें नोटिस दिया गया है। उन्हें कहा किसानों का यह धरना सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक जारी रहेगा। इस दौरान सरकार व प्रशासन के खिलाफ रोष जाहिर किया गया। अगर सरकार व प्रशासन द्वारा उनकी मांगें नही मानी गई तो वह एक बड़ा आंदोलन करने की रूप रेखा तैयार करेंगे।

वेतन मांगने पर कर्मचारी से बर्बरता: पलवल में ठेकेदार ने कर्मी के प्राइवेट पार्ट में एयर प्रेशर से हवा भरी; हालत गंभीर

किसान सुशील काजल की बनाई जाएगी बरसी

वहीं किसान नेता रवि आजाद ने कहा कि बसताड़ा टोल पर पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज के दौरान किसान सुशील कॉजल की मौत हो गई थी। किसान सुशील कॉजल की आज पहली बरसी भी जिला सचिवालय के बाहर श्रद्धांजलि अर्पित की मनाई जाएगी। वहीं उन्होंने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वो किसानों के आंदोलन को ना भूले पहले भी किसान तीन कृषि कानून रद्द करवा चुके है। अगर बसताड़ा टोल पर हुए लाठीचार्ज को लेकर किसानों पर किए गए मुकदमे वापिस नहीं लेती तो किसान दोबारा आंदोलन करने से पीछे नहीं हटेगें।

 

खबरें और भी हैं…

.
स्पाइवेयर फर्म 64 करोड़ रुपये में किसी भी एंड्रॉइड, आईओएस डिवाइस को हैक करेगी: सभी विवरण

.

Advertisement