एसडीएम सत्यवान मान ने किया सफीदों की नंदीशाला का निरीक्षण

67
Advertisement

 

नंदीशाला संचालक ने स्टाफ की सैलरी और चारे की मांग रखी

 

एस• के• मित्तल       

सफीदों, सफीदों के एसडीएम सत्यवान मान ने सफीदों की नंदीशाला का निरीक्षण किया। एसडीएम सत्यवान मान ने नंदीशाला का दौरा करके वहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। एसडीएम ने नंदीशाला संचालक एवं नगर पार्षद दीपक चौहान यहां की समस्याओं के बारे में विस्तार से जानकारी हासिल की।

अग्रवाल वैश्य समाज अग्रसैन जयंती पर प्रदेशभर में करेगा आयोजन: महाबीर मित्तल

दीपक चौहान ने उन्हे बताया कि नंदीशाला में तत्काल गौवंश के लिए चारे तथा यहां पर कार्यरत स्टाफ के लिए सैलरी की व्यवस्था करवाने की आवश्यकता है। चौहान ने उन्हे बताया कि धान का सीजन शुरू हो चुका है तथा गौवंश के लिए धान की पराली काफी इक्कट्ठी हो सकती है। इस कार्य में प्रशासन सामाजिक संगठनों, गण्यमान्य लोगों, तहसीलदार, पटवारियों, नंबरदारों व सरपंचों से सहयोग लिया जा सकता है। दीपक चौहान ने कहा कि प्रशासन व समाज पूर्ण सहयोग प्रदान करता है तो सड़कों पर बेसहारा घूम रहे गोवंश को नंदीशाला में शरण दी जाएगी। जिस पर एसडीएम ने आश्वासन दिया कि प्रशासन नंदीशाला के लिए हरसंभव सहायता मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इस नेक कार्य में किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहने दी जाएगी। उन्होंने नंदीशाला के कार्य में जुटे गौभक्तों से कहा कि वे गौवंश की पूरी तरह से सेवा-संभाल करें। हाल में गौवंश को लंपी स्कीन नामक बीमारी ने घेरा हुआ है। अन्य इलाकों की अपेक्षा सफीदों में स्थिति पूरी तरह से कंट्रोल में है। फिर भी नंदीशाला में कीटनाशक का छिड़काव व वैक्सीनेशन का कार्य निरंतर करते रहे ताकि इस बीमारी का प्रकोप यहां पर ना हो।

 

कुरुक्षेत्र में खेल मंत्री ने सुनी समस्याएं: टीकरी आवास पर बोले संदीप सिंह- मौके पर होगा समस्याओं का समाधान

इस कार्य के लिए प्रशासन व पशुपालन विभाग 24 घंटे अलर्ट पर है। अगर कोई समस्या हो तो उनसे किसी भी वक्त संपर्क किया जा सकता है तथा फौरी तौर पर हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि गौवंश को भरपेट चारा, पीने का साफ पानी व रहने की सुलभ व्यवस्था मिलनी चाहिए। इस अवसर पर नंदीशाला संचालक एवं पार्षद योगी दीपक चौहान, विश्व हिंदू परिषद के जिला उपाध्यक्ष अरविंद शर्मा, सन्नी सैनी, रमेश सैनी, मनीष भारद्वाज, संदीप प्रजापत मौजूद थे।

यमुनानगर में पानी से निकलती है अर्थी: कामी माजरा में गलियों में गंदे पानी की निकासी का प्रबंध नहीं; वीडियो हुआ वायरल

Advertisement