ई-संजीवनी एप के माध्यम से आमजन ले सकते है डॉक्टर की सलाह : डीसी नरेश नरवाल

133
Advertisement

एप का फायदा उठाने के लिए मोबाइल में ई-संजीवनी एप को करना होगा डाउनलोड

एस• के• मित्तल
जीन्द,      डीसी नरेश नरवाल ने कहा कि यदि आपको कोई गंभीर बीमारी नहीं है और आपको अपने स्वास्थ्य से जुड़े सामान्य रोगों की जांच के लिए डॉक्टरी परामर्श लेना है तो आप घर बैठें ही ई-संजीवनी ऐप का लाभ उठा सकते है। इस ऐप से कोई भी नागरिक स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ लेते हुए घर बैठे गुणवत्ता पूर्ण डॉक्टरी सेवाएं निशुल्क प्राप्त कर सकता है। डीसी श्री नरेश नरवाल ने कहा कि वर्तमान समय में जिला में कोरोना के बढ़ते संक्रमण प्रसार को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा जिला वासियों को कोरोना से संबंधित एडवाइजरी फॉलो करने के निर्देश दिए गए हैं। ऐसे में यदि कोई नागरिक गंभीर रोग से पीडि़त नहीं है व उसे अपने से जुड़े सामान्य रोग के लिए डॉक्टरी परामर्श लेना है तो वे राष्ट्रीय टेली कंसल्टेशन सेवा के तहत ई-संजीवनी ओपीडी एप्लीकेशन का प्रयोग कर राज्य में कार्यरत विशेषज्ञ चिकित्सकों से किसी भी प्रकार की बीमारी के लिए इलाज व परामर्श एवं प्रिस्क्रिप्शन प्राप्त कर सकता है। सबसे पहले गूगल ऐप से ई-संजीवनी ऐप डाउनलोड करना होगा। इसके बाद अपना मोबाइल नंबर ओटीपी के माध्यम से सत्यापित कर पंजीकरण कर सकेंगे।
यह भी देखें:-
पंजीकरण के लिए नाम, पता, जेंडर, आयु आदि सूचनाएं ऐप में दर्ज करनी होंगी। डीसी ने कहा कि ऐप पर दी गई जानकारी के अनुसार पेशेंट आईडी और टोकन नंबर डालकर सिस्टम में लॉग इन करें। मरीज अपनी बारी का इंतजार करें और टोकन नंबर आने पर ऑनलाइन चिकित्सक से परामर्श प्राप्त करें। परामर्श के दौरान आप संबंधित चिकित्सक को परेशानी, बीमारी, लक्षण आदि के बारे में बताएं ताकि चिकित्सक आपको दवाएं सावधानी व परहेज आदि बता सकें। टेली कंसल्टेशन पूर्ण होने पर ई-प्रिस्क्रिप्शन प्राप्त करें जिसके माध्यम से आप अपने किसी भी नजदीकी मेडिकल स्टोर से दवा प्राप्त कर सकेंगें। जरूरत होने पर आप फॉलोअप परामर्श भी ले सकते है।
Advertisement