आंगनवाड़ी वर्कर्स ने लघु सचिवालय जींद में किया प्रदर्शन व दी गिरफ्तारी

166
Advertisement

प्रशासन ने किया कोविड-19 नियमों की उल्लंघना का मामला दर्ज 

 

एस• के• मित्तल

जींद, अपनी विभिन्न मांगों को लेकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व आंगनबाड़ी सहायक पिछले 36 दिनों से लघु सचिवालय जींद में हड़ताल पर हैं। उन्होंने कोर्ट मोड जींद और पार्क में इकट्ठा होकर आज प्रदर्शन किया व गिरफ्तारी का प्रोग्राम बनाया था। जिसपर उनके द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने सरकार द्वारा जारी कॉविड–19 के नियमों की अवमानना की। जिसके बाद जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन के दौरान उन्हें कोविड-19 नियमों की उल्लंघना का मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया गया। जानकारी देते हुए सुरक्षा शाखा इंचार्ज उप-निरीक्षक सुरेश कुमार ने बताया कि आंगनवाड़ी वर्कर्स को पहले ही नोटिस द्वारा सूचित किया गया था कि महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा के संबंध में जारी गाइडलाइन के तहत 100 से अधिक व्यक्ति एक स्थान पर एकत्रित होते हैं तो उन्हें उपमंडल मजिस्ट्रेट से अनुमति लेनी चाहिए जो कि उन्होंने ऐसा ना करके कोविड-19 नियमों व जिला मजिस्ट्रेट के आदेशों की अवहेलना की। उन्हें बताया गया था कि अगर वे ऐसा करते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जो कि उन्होंने कोविड-19 के नियमों का उल्लंघन करते हुए 300 से 350 के बीच आंगनवाड़ी कार्यकर्ता व सहायको ने इक्कठा होकर लघु सचिवालय के सामने प्रदर्शन किया व अवरोध उत्पन्न किया तो उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005, महामारी अधिनियम व आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत थाना सिविल लाइन जींद में मामला दर्ज किया जा कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है।

यह भी देखें:-

गृहमंत्री द्वारा शाहबाद थाने में की गई कार्रवाई पर आरपीआई (अं) ने पानीपत में किया विरोध प्रदर्शन …

एसपी साहब का कहना है कि मानव जीवन बहुत ही कीमती है और उसको बचाने के लिए हर व्यक्ति को साथ कदम बढ़ाने की जरूरत है। कोविड-19 की उल्लंघन कर इन लोगों ने अपने साथ-साथ दूसरों की जिंदगी को भी खतरे में डालने का काम किया है। किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने की अनुमति नहीं है। अगर भविष्य में भी ऐसी कोई घटना घटित होती है तो उनके खिलाफ भी उचित कानूनी प्रक्रिया अमल में लाई जाएगी। प्रदर्शन के बाद कोविड गाइडलाइन तोड़ने व आदेशों की पालना न करने पर एफ आई आर दर्ज की गई इसमें डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट 2005 की धारा 51 बी, आईपीसी की धारा 147, 148, 188, 269, 270, 283 व 341और महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने कामरेड रमेश जिला सचिव सीआईटीयू, कामरेड कश्मीर वासी जींद, चांद बहादुर जिला प्रधान अखिल भारतीय किसान सभा, कामरेड सतबीर खरल, कामरेड सुरेश वासी करसोला, कामरेड नूतन प्रकाश जिला प्रधान जनवादी महिला, भुला देवी जिला प्रधान आंगनवाड़ी वर्कर, सुमन देवी जिला सचिव, रमेश आंगनवाड़ी वर्कर, पुष्पा देवी ब्लॉक प्रधान जींद, सुरेश कुमारी कैशियर आंगनवाड़ी व अन्य के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार किया है।

Advertisement